Hardik Pandya reveals MS Dhoni’s advice which helped him improve his game
Twitter

राजकोट में खेले गए चौथे T20I मुकाबले में टीम इंडिया की जीत में हार्दिक पांड्या (46) और दिनेश कार्तिक (55) की अहम भूमिका रही। दोनों ने बल्ले से कमाल करते हुए भारत का स्कोर 169 रनों तक पहुंचाया और फिर शानदार गेंदबाजी के दम पर मैच अपने नाम कर लिया। इस जीत से भारत ने सीरीज में 2-2 की बराबरी हासिल कर ली। हार्दिक और दिनेश IPL के 15वें सीजन से कमाल के फॉर्म में हैं और दोनों ही खिलाड़ी ने IPL के प्रदर्शन के दम पर टीम इंडिया में लंबे समय बाद वापसी की है।

5 मैचों की T20I सीरीज में चौथी जीत के बाद हार्दिक और दिनेश ने BCCI.TV पर खुलकर बात की। इस दौरान हार्दिक ने खुलासा किया कि करियर की शुरुआत में धोनी की सलाह ने उन्हें एक बेहतर खिलाड़ी बनने में मदद की। पांड्या ने कहा, “अपने शुरुआती दिनों में मैंने माही भाई से एक सवाल पूछा था। मैंने उनसे पूछा कि वह दबाव को खुद से कैसे दूर रखते हैं और उन्होंने मुझे बहुत ही काम सलाह दी।”

हार्दिक ने कहा, “माही भाई ने मुझसे कहा- ‘अपने खुद के स्कोर के बारे में सोचना बंद करो और इस बारे में सोचना शुरू करो कि आपकी टीम को क्या चाहिए।’ बहुत पहले से ये सबक मेरे दिमाग में अटका हुआ है और इससे मुझे ऐसा खिलाड़ी बनने में मदद मिली जैसा कि अभी मैं हूं।”

हार्दिक ने बतौर कप्तान IPL 2022 में गुजरात टाइटंस को पहले ही सीजन चैंपियन बनाकर इतिहास रच दिया। इस प्रदर्शन के दम पर उनकी टीम इंडिया में वापसी संभव हो पाई। इसके बाद साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज में उन्हें उपकप्तान नियुक्त किया गया और अब उन्हें आयरलैंड दौरे पर जाने वाली भारतीय टीम का कप्तान बनाया गया है।

उन्होंने आगे कहा, “मैं बहुत उत्साहित था कि मैं इस साल T20I वर्ल्ड कप खेलना चाहता हूं। मुझे लगता है कि यह मेरे जीवन में बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि मैं इतने लंबे समय से खेल रहा हूं। मुझे पता है कि टीम से बाहर होने पर कैसा महसूस होता है। मैं यह भी जानता हूं कि टीम इंडिया के लिए खेलना कितनी बड़ी बात है।”