×

IPL 2023- हर्षल पटेल के इस ओवर में रोमांच की सभी हदें तोड़ दीं, हर गेंद पर पलटती गई बाजी!

हर्षल पटेल के इस ओवर में दो विकेट गिरे. लंखनऊ के लिए मैच आसान नहीं था. बैंगलोर को एक अतिरिक्त फील्डर 30 गज के घेरे के भीतर रखना था और पेनाल्टी उसके लिए मददगार ही साबित हुई.

lucknow beat bangalore last over

lucknow beat bangalore last over (IPL photo)

बेंगलुरु: यह क्रिकेट का रोमांच है. यह आईपीएल का रोमांच है. सोमवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को लगातार दूसरी हार का सामना करना पड़ा. लखनऊ सुपर जायंट्स ने आखिरी गेंद पर एक विकेट बाकी रहते 213 रन का लक्ष्य हासिल कर लिया. बेंगलुरु के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम पर खूब रन बरसे. हर्षल पटेल के आखिरी ओवर में लखनऊ को सिर्फ पांच रन चाहिए थे. उनके हाथ में तीन विकेट थे. ऐसे वक्त पर बैंगलोर के लिए उम्मीद कम थी लेकिन  पटेल ने इस ओवर को और मैच को रोमांचक बनाने की पूरी कोशिश की. देखते हैं आखिरी ओवर में कैसा रहा दिलों की धड़कन बढ़ाने वाला रोमांच

19.1 हर्षल पटेल- उनादकत को- 1 रन. यॉर्कर लेंथ गेंद. मिड-ऑफ पर एक रन बना.

मैदान पर RCB, RCB के नारे लग रहे थे. एम. चिन्नास्वामी मैदान पर फैंस अपनी टीम का पूरा साथ दे रहे थे.

19.2- हर्षल पटेल मार्क वुड को. बोल्ड. क्या कामयाबी मिली बैंगलोर को. हर्षल पटेल का यह 100वां आईपीएल विकेट था. यॉर्कर फेंकने का प्रयास. लेकिन यह लो फुल टॉल बनी. यह गेंद हालांकि धीमी रफ्तार की थी. वुड इसे पूरी तरह मिस कर गए. मिडल-स्टंप पर जाकर गेंद लगी. वुड 2 गेंद पर 1 रन बनाकर आउट हुए.

रवि बिश्नोई क्रीज पर आए.
19.3- पटेल की गेंद बिश्नोई को. 2 रन. बहुत अच्छी प्लेसमेंट. विकेटों के बीच उससे भी अच्छी दौड़. गेंद ऑफ स्टंप पर काफी फुल थी. बिश्नोई ने जगह बनाई और गेंद को बैकवर्ड पॉइंट के पीछे खेला. तेजी से दौड़कर दो रन पूरे किए.

19.4- पटेल की गेंद बिश्नोई को. एक रन. बिश्नोई ने गेंद को बैकवर्ड पॉइंट पर पुल किया. अब स्कोर बराबर है.

19.5- पटेल, उनादकत को. उनादकत ने लखनऊ को मुश्किल में डाल दिया. उनके नाम फर्स्ट क्लास क्रिकेट में चार हाफ सेंचुरी हैं. लेकिन यहां समझदारी चाहिए थी. थोड़ी सी छोटी गेंद को उनादकट ने पुल किया. गेंद हवा में गई. फाफ डु प्लेसिस लॉन्ग ऑन पर खड़े थे. गेंद उनके हाथ में गई. एक बार को छिटकी लेकिन डु प्लेसिस ने उसे थामे रखा.

क्या मैच में अभी एक और मोड़ बाकी है. अब सुपर ओवर लग रहा था. और ड्रामा अभी बाकी था.

हर्षल पटेल को अंदाजा था कि रवि बिश्नोई गेंद छूटने से पहले दौड़ पड़ेंगे. उनका अंदाजा सही था. बिश्नोई नॉन-स्ट्राइकर छोर पर दौड़ पड़े थे. लेकिन रनअप में गेंद को विकेट पर छुआने में पटेल असफल रहे. और बिश्नोई को जीवनदान मिला. हालांकि पटेल ने आगे जाकर गेंद को नॉन-स्ट्राइकर स्टंप्स पर थ्रो किया. गेंद लगी भी लेकिन यह आउट नहीं होता.

19.6- दिनेश कार्तिक जैसे अनुभवी विकेटकीपर से ऐसी गलती की उम्मीद नहीं थी. बाई का एक रन मिलते ही लखनऊ ने जीत हासिल की. गेंद ऑफ स्टंप के बाहर थी. आवेश खान ने बल्ला घुमाया. वह मिस कर गए. बिश्नोई ने दौड़ लगा दी. पूरी रफ्तार के साथ. विकेट के पीछे कार्तिक गेंद को सफाई से पकड़ नहीं पाए. उन्होंने गेंद को थ्रो किया लेकिन तब तक बिश्नोई और आवेश खान अपनी-अपनी क्रीज में पहुंच चुके थे.

trending this week