सनथ जयसूकर्या और हसन तिलकरत्ने © Getty Images
सनथ जयसूकर्या और हसन तिलकरत्ने © Getty Images

श्रीलंका क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान हसन तिलकरत्ने को सोमवार को श्रीलंका का अस्थायी बल्लेबाजी कोच नियुक्त किया गया है। वह भारत के खिलाफ होने वाली तीन टेस्ट मैचों की सीरीज तक टीम के साथ रहेंगे। इसके बाद उनके भविष्य पर फैसला लिया जाएगा। श्रीलंका की टीम 2014 से बिना स्थायी बल्लेबाजी कोच के खेल रही है। श्रीलंका और भारत के बीच पहला टेस्ट मैच बुधवार से गाले में शुरू हो रहा है।

क्रिकइंफो ने श्रीलंका क्रिकेट (एसएलसी) के मैनेजर असंका गुरुसिंहा के हवाले से लिखा है, “हसन जिम्बाब्वे के खिलाफ खेले गए एकमात्र टेस्ट मैच से हमारे साथ थे। इस समय वह सभी टेस्ट मैचों के लिए हमारे बल्लेबाजी कोच रहेंगे। भारत के खिलाफ होने वाली सीरीज के बाद हम मुख्य कोच निक पोथास के साथ इस मुद्दे पर चर्चा करेंगे। उनके अनुभव से बल्लेबाज काफी कुछ सीख सकते हैं।” [ये भी पढ़ें: रविचंद्रन अश्विन ने कहा अनिल कुंबले-विराट कोहली विवाद से आगे बढ़ चुकी है टीम]

तिलकरत्ने एसएलसी के साथ काफी समय से काम कर रहे हैं। वह मुख्य रूप से श्रीलंका की जूनियर टीमों के साथ रहे हैं, जिनसे खिलाड़ी राष्ट्रीय टीम में आते हैं। वह जनवरी 2013 से जनवरी 2015 तक श्रीलंका के मुख्य चयनकर्ता भी रह चुके हैं। वह श्रीलंका टीम के कोचिंग स्टाफ में जुड़ने वाले नए सदस्य हैं। हाल ही में दिग्गज तेज गेंदबाज चामिंडा वास को टीम का गेंदबाजी कोच नियुक्त किया गया है। पोथास ने ग्राहम फोर्ड का स्थान लिया है।