Home series loss to India defining moment of coaching career: Justin Langer
Justin Langer @ Cricket Australia

भारत के खिलाफ घरेलू सीरीज में मिली अभूतपूर्व हार ऑस्ट्रेलियाई (India vs Ai) कोच जस्टिन लैंगर (Justin Langer) के लिये ‘खतरे की घंटी’ रही और उनका मानना है कि वह सीरीज उनके कोचिंग कैरियर का निर्णायक दौर भी रही।

लैंगर को मई 2018 में ऑस्ट्रेलिया का कोच बनाया गया था। उसी समय कप्तान स्टीव स्मिथ (Steven Smith) और उपकप्तान जस्टिन लैंगर (Justin Langer) गेंद से छेड़खानी मामले में प्रतिबंधित हो गए थे।

पढ़ें:- राजीव शुक्‍ला से पूछा गया 15 अप्रैल से IPL मैचों को लेकर सवाल, दिया ये जवाब

साल 2018-19 में हुए ऑस्‍ट्रेलिया दौरे के दौरान भारत ने पहली बार मेजाबन टीम को उन्‍हीं की धरती पर टेस्‍ट सीरीज में मात दी। ऑस्‍ट्रेलिया को 2-1 से हराकर भारत मेजाबनों को उन्‍हीं की धरती पर हराने वाला पहला एशियाई देश बना था।

अपने स्टार बल्लेबाजों के बिना ऑस्ट्रेलियाई टीम भारत के सामने टिक नहीं सकी। लैंगर ने ऑस्ट्रेलियाई एसोसिएट प्रेस को एक पॉडकास्ट में कहा ,‘‘ यह खतरे की घंटी थी और मेरे जीवन का कठिन दौर।’’

उन्होंने कहा ,‘‘ मुझे इसमें कोई शक नहीं कि दस साल बाद जब मैं अपने कोचिंग कैरियर की समीक्षा करूंगा तो वह सीरीज निर्णायिक साबित होगी।’’

पढ़ें:- Q&A: शिखर धवन से फैन ने पूछा पसंदीदा साथी बल्‍लेबाज का नाम, मिला कुछ ऐसा जवाब

उन्होंने अपने कैरियर के एक और कठिन दौर का जिक्र किया जब 2001 एशेज सीरीज में उन्हें टीम से निकाल दिया गया था।