पाकिस्तान के विस्फोटक बल्लेबाज उमर अकमल (Umar Akmal) करीब दो साल बाद क्रिकेट के मैदान पर वापसी के लिए तैयार हैं. अकमल मैच फिक्सिंग से जुड़े मामले के चलते 3 साल का बैन लगाया गया था, जिसे बाद में घटाकर डेढ़ साल कर दिया गया. बैन खत्म होने के बाद अकमल को पाकिस्तान की घरेलू टीम सेंट्रल पंजाब ने अपनी टीम से जोड़ा है और वह 5 सितंबर को टीम से जुड़ेंगे.

टीम में शामिल होने की खबर पर प्रतिक्रिया देते हुए उमर अकमल ने कहा, ‘घरेलू क्रिकेट में लौटकर बहुत खुश हूं. मैं अपनी क्षमताओं का बेहतर ढंग से प्रदर्शन करने की कोशिश करूंगा और उम्मीद करता हूं कि पाकिस्तान की टीम में फिर से अपने चयन का दावा पेश कर सकूं.’ क्रिकेट पाकिस्तान ने उमर अकमल के हवाले से यह बात प्रकाशित की.

अकमल ने अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच अक्टूबर 2019 में श्रीलंका के खिलाफ खेला था. इसके बाद वह साल 2020 में पीएसएल में भाग ले रहे थे लेकिन उन्हें यह लीग खेलने से रोक दिया गया था क्योंकि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) की भ्रष्टाचार रोधी संहिता ने उन्हें सटोरियों से संपर्क में लिप्त पाया था, जिसकी जानकारी को उन्होंने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से छिपाया था. इसके चलते पीसीबी ने इस क्रिकेटर पर 3 साल का बैन लगाया था.

बाद में अकमल ने इस कड़ी सजा के खिलाफ पीसीबी में अपील की थी, जिसके बाद उनकी सजा को घटाकर 18 महीने कर दिया गया और इसके साथ उन पर 42.5 लाख पाकिस्तानी रुपये का जुर्माना भी लगाया गया.

हाल ही में उनकी यह सजा खत्म हुई है और घरेलू क्रिकेट खेलने से पहले पीसीबी ने उन्हें क्लब क्रिकेट में भी खेलने की इजाजत दी थी. पीसीबी ने बताया कि इस क्रिकेटर को अपनी गलती का अहसास है और उन्होंने एंटी करप्शन से जुड़े कई लेक्चर में हिस्सा लिया है और इसके साथ ही उन्होंने भ्रष्टाचार विरोधी सवाल-जवाब के सेशन में भी हिस्सा लिया है. 31 वर्षीय उमर ने अकमल ने अब तक पाकिस्तान की ओर से 16 टेस्ट, 121 वनडे और 84 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं.