एमएस धोनी और विराट कोहली © Getty Images
एमएस धोनी और विराट कोहली © Getty Images

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली जिस तरह से सीरीज दर सीरीज जीत दर्ज कर रहे हैं उस लिहाज से उन्होंने अपने आपको नई सदी के अनोखे लीडर के रूप में पेश किया है। हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के महान पूर्व क्रिकेटर माइक हसी ने विराट कोहली की कप्तानी की तुलना रिकी पोंटिंग की कप्तानी से की और उनके कप्तानी के अंदाज की तारीफ की। टाइम्स ऑफ इंडिया के हवाले से हसी ने धोनी के रिटायरमेंट के बारे में भी बातचीत की।

विराट कोहली की कप्तानी के बारे में बोले हसी: हसी ने कहा, “मैंने हमेशा कोहली की कप्तानी का आनंद लिया है। उनमें जीतने की इच्छा कूट-कूटकर भरी है और मैं उनमें रिकी पोंटिंग की कप्तानी की समानताएं देख सकता हूं। पोंटिंग हमेशा सफलता के लिए भूंखे रहते थे और हमेशा अपनी टीम को उसे आगे की ओर धकेलते थे। एमएस धोनी बेहतरीन कप्तान थे और विराट के लिए धोनी की जगह भर पाना चुनौती होगी। लेकिन विराट को लेकर अच्छी बात ये है कि वह धोनी के तरीकों का इस्तेमाल नहीं करना चाहते।”

“उन्होंने अपने अंदाज में टीम की अगुआई की है। वह अपने व्यक्तित्व को लेकर हमेशा से सच्चे रहे हैं। पिछले कुछ सालों के दौरान टीम इंडिया परिवर्तनकाल से गुजर रही थी। लेकिन अब टीम स्थिर है। यह भारतीय क्रिकेट के लिए बेहतरीन समय है। खिलाड़ियों को अपने कप्तान पर भरोसा है और हर किसी का दृष्टिकोण एक है। जाहिरतौर पर आने वाले समय में चुनौतियां आएंगी। इस दौरान कप्तान ही नहीं बल्कि खिलाड़ियों की भी अग्निपरीक्षा होगी।” [ये भी पढ़ें: वनडे सीरीज के लिए टीम इंडिया का चयन आज, किसे मिलेगा मौका?]

एमएस धोनी के संन्यास के बारे में बोले हसी: एमएस धोनी के 2019 विश्व कप तक खेलने की संभावनाओं के बारे में बातचीत करते हुए हसी ने कहा, “एमएस अपनी शर्तों पर संन्यास लेने या न लेने के योग्य हैं। अगर उन्हें लगता है कि उन्हें 2019 विश्व कप खेलना है तो उनपर कौन शक कर सकता है? वह बहुत ही विनम्र और ईमानदार व्यक्ति हैं। अगर वह सोचते हैं कि वह साल 2019 में भारतीय टीम की सफलता में योगदान नहीं दे सकते तो मुझे नहीं लगता कि वह वहां जाएंगे। 36 साल की उम्र में भी वह मेरे हिसाब से सबसे फिट खिलाड़ी हैं। वह अपना गेम जानते हैं और अपने शरीर का बढ़िया ख्याल रख रहे हैं। इसलिए वह जानते हैं कि कब अलविदा कहना है।”