I will take you to a psychiatrist myself: Gautam Gambhir’s reply on Shahid Afridi’s remarks
गौतम गंभीर, शाहिद आफरीदी (Getty Images)

शाहिद आफरीदी ने हाल में अपनी आत्मकथा में गौतम गंभीर के बारे में नकारात्मक बातें लिखी हैं जिनका जवाब देते हुए उन्होंने खुद पाकिस्तान के पूर्व कप्तान को ‘मनोचिकित्सक’ के पास ले जाने की पेशकश की।

आफरीदी ने अपनी आत्मकथा ‘गेम चेंजर’ में व्यांग्यत्मक रूप में गंभीर के बारे में लिखा कि वो ‘इस तरह का व्यवहार करते हैं जैसे वो डॉन ब्रैडमैन और जेम्स बांड दोनों की काबिलियत’ रखते हों और उसका रवैया भी अच्छा नहीं है और ना ही उसके कोई महान रिकार्ड हैं।

पूर्व भारतीय क्रिकेटर गंभीर ने अफरीदी को टैग करते हुए अपने अधिकारिक ट्विटर पर इसका जवाब दिया। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘…तुम मजाकिया व्यक्ति हो!! कोई नहीं, हम अब भी पाकिस्तानी लोगों को चिकित्सा के लिए वीजा दे रहे हैं। मैं खुद तुम्हें मनोचिकित्सक के पास लेकर जाऊंगा।’’

ये भी पढ़ें: टूर्नामेंट से बाहर होने के बाद रविचंद्रन अश्विन ने कहा-पावरप्ले हमारे लिए बड़ी परेशानी रहा

इन दोनों खिलाड़ियों के बीच मैदान के अंदर और बाहर ही अच्छा तालमेल नहीं रहा है और आफरीदी की इस तरह की टिप्पणी में ये साफ झलकता है। साल 2007 में कानपुर में खेली गई बाईलैटरल वनडे सीरीज के दौरान दोनों के बीच बहस हो गयी थी (हालांकि अफरीदी की किताब में एशिया कप मैच बताया गया है जो गलत है।)

आफरीदी ने हाल में स्वीकार किया कि उन्होंने उम्र संबंधित धोखाधड़ी की थी और जब उन्होंने अपने डेब्यू मैच में शतक जड़ा था तो वो 16 के नहीं बल्कि 21 साल के थे। जबकि सालों से माना जा रहा था कि वो तब 16 साल के थे।