ऑस्ट्रेलिया के पूर्व महान क्रिकेटर इयान चैपल (Ian Chappell) ने भारत के अनुभवी स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) को मौजूदा दौर के सर्वश्रेष्ट टेस्ट गेंदबाजों में से एक करार दिया. ‘ईएसपीएनक्रिकइंफो’ के कार्यक्रम ‘रनऑडर’ में हालांकि चैपल की बातों से भारत के पूर्व बल्लेबाज संजय मांजरेकर सहमत नहीं हुए. मांजरेकर ने अश्विन के विदेशी मैदानों के रिकॉर्ड पर सवाल उठाया और कहा कि भारतीय मैदानों पर रविन्द्र जडेजा और हाल में अक्षर पटेल जैसे स्पिनरों ने भी शानदार प्रदर्शन किये हैं.

इस पर चैपल ने वेस्टइंडीज के महान तेज गेंदबाज जोएल गार्नर के योगदान को याद करते हुए कहा कि उनके विकेटों की संख्या इसलिए कम है क्योंकि उनके साथ कई और शानदार गेंदबाज टीम में थे.

मांजरेकर ने कहा, ‘‘जब लोग उन्हें (अश्विन) को सर्वकालिक महान गेंदबाज बताते हैं, तो मुझे कुछ समस्या है. अश्विन के साथ यह समस्या है कि उन्होंने एसईएनए (दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया) देशों में एक बार भी पांच विकेट नहीं चटकाया है. जब आप भारतीय पिचों पर उनके दमदार प्रदर्शन को देखेंगे, तो पिछले चार वर्षों में जडेजा ने लगभग उनके बराबर विकेट लिये हैं. इंग्लैंड के खिलाफ पिछली शृंखला में पटेल ने उनसे ज्यादा विकेट लिये हैं.’’

मांजरेकर के विचारों से असहमत होते हुए चैपल ने गार्नर का उदाहरण दिया. उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप गार्नर के प्रदर्शन को देखेंगे तो शायद उन्होंने ज्यादा बार पांच विकेट नहीं लिये हैं. जब आप उनके रिकार्ड को देखेंगे, तो शायद वह उतना प्रभावशाली नहीं दिखेगा. ऐसा इसलिए है क्योंकि उस टीम में तीन और शानदार गेंदबाज थे. मुझे लगता है कि पिछले कुछ वर्षों भारतीय गेंदबाजी शानदार रहै हैं, जिससे गेंदबाजों को विकेट साझा करने पड़े हैं.’’

चैपल ने मौजूद समय के पांच सर्वश्रेष्ठ टेस्ट गेंदबाजों में अश्विन के साथ इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी और कैगिसो रबाडा को भी जगह दी लेकिन अपने देश के पैट कमिंस इस सूची में सबसे ऊपर रखा. चैपल इशांत के पिछले तीन साल के प्रदर्शन से भी बेहद प्रभावित हैं, जिन्होंने 2018 से 22 टेस्ट में 77 विकेट चटकाये हैं.