भारतीय टेस्ट टीम में ‘संकटमोचक’ की भूमिका निभा चुके कलात्मक बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण की बल्लेबाजी की पूरी क्रिकेट जगत  कायल था. लक्ष्मण की कोलकाता के ऐतिहासिक ईडन गार्डंस स्टेडियम में खेली गई 281 रन की मैराथन पारी फैंस के जेहन में आज ताजा है. ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान इयान चैपल ने बेहतरीन स्पिन गेंदबाजी के खिलाफ खेली गई दो सर्वकालिक पसंदीदा पारियों में वीवीएस लक्ष्मण की 2001 में खेली गई इस ऐतिहासिक पारी को शामिल किया है.

चैपल ने ईएसपीएनक्रिकइंफो पर लिखे अपने कॉलम में लिखा, ‘कोविड-19 महामारी के कारण कोई क्रिकेट नहीं खेला जा रहा है जिसने मुझे खेल के उस पहलू पर सोचने का मौका दिया है जो मुझे बहुत पसंद है और वो एक बल्लेबाज को अपने फुटवर्क का इस्तेमाल शीर्ष स्तरीय स्पिन गेंदबाजी से निपटने के लिए करते हुए देखना है. इसमें दो पारियां सबसे बेहतरीन हैं. पहली भारत के वीवीएस लक्ष्मण की और दूसरी ऑस्ट्रेलिया के डग वाल्टर्स की.’

COVID-19: वर्ल्ड कप हीरो को ICC ने किया सलाम, कोरोनावायरस के खिलाफ छिड़ी जंग में कर रहा ये काम

उन्होंने लिखा, ‘मैंने अभी तक शीर्ष स्तर की लेग स्पिन के खिलाफ जो पारियां देखी हैं, उसमें 2001 में लक्ष्मण की कलकत्ता में खेली गई 281 रन की पारी सर्वश्रेष्ठ थी. उस श्रृंखला के खत्म होने के बाद मैंने शेन वार्न से पूछा था कि उन्हें क्या लगता है कि उन्होंने कैसी गेंदबाजी की थी.’

चैपल ने लिखा, ‘उसने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि मैंने इतनी बुरी गेंदबाजी की थी.’ लेकिन मैंने जवाब दिया था, ‘तुमने ऐसा नहीं किया था.’

उनके अनुसार, ‘अगर लक्ष्मण अपनी क्रीज से तीन कदम आगे आकर स्पिन के खिलाफ बेहतरीन आन-ड्राइव शॉट खेलता है और उसके बाद फिर अगली गेंद को तुम थोड़ा ऊंचा और शॉर्ट फेंककर एक और ड्राइव का आमंत्रण देते हो जिस पर वह तेजी से बैकफुट पर जाकर इसे पुल कर देता है तो यह बुरी गेंदबाजी नहीं है. यह अच्छा फुटवर्क है.’

कोरोनावायरस पीड़ितों की मदद को आगे आए अजिंक्य रहाणे, 10 लाख रुपये की मदद का किया ऐलान

उन्होंने लक्ष्मण के जज्बे की तारीफ करते हुए लिखा, ‘लक्ष्मण ने 452 गेंद की पारी के दौरान नियमित रूप से ऐसा किया जिसमें उन्होंने 44 बाउंड्री लगाई. लक्ष्मण की सफलता का राज था कि उसने लगातार मैदान के चारों ओर गेंद को हिट किया था.’

लक्ष्मण और राहुल द्रविड़ (180) की बदौलत भारत ने उस टेस्ट मैच में फॉलोआन खेलने के बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच में जीत हासिल की थी. लक्ष्मण और द्रविड़ ने मैराथन 376 रन की साझेदारी से भारत को अविश्वसनीय जीत दिलाई. लक्ष्मण ने इस दौरान शेन वार्न जैसे स्पिनर की गेंदों को रौंदकर रन जुटाये थे जिससे चैपल इस भारतीय बल्लेबाज की इस पारी के मुरीद हो गए.