लंदन ओलंपिक स्टेडियम © Getty Images
लंदन ओलंपिक स्टेडियम © Getty Images

साल 2019 में होने वाला विश्व कप इंग्लैंड में खेला जाना है। इंग्लैंड में खेले जाने वाले विश्व कप को लेकर एक बड़ी खबर आ रही है और वो यह है कि विश्व कप के कुछ मुकाबले लंदन के ओलंपिक स्टेडियम में आयोजित कराए जा सकते हैं। हाल ही में आईसीसी के अधिकारियों ने स्टेडियम का निरीक्षण किया और पाया कि ग्राउंड 50 ओवरों के मैच के मानकों के अनुसार एक दम ठीक है।

हालांकि अभी इस पर अंतिम फैसला नहीं लिया गया है और अगले कुछ महीनों में इसपर फैसला लिया जाएगा। लेकिन खबरों के मुताबिक इस बात की काफी संभावनाएं हैं कि इस स्टेडियम में विश्व कप के कुछ मैच आयोजित कराए जाएंगे। 2019 में होने वाले विश्व कप के कुछ मैच इस स्टेडियम में कराने को लेकर आईसीसी भी काफी उत्साहित है और वह आयोजकों का पूरा साथ दे रही है। लंदन स्टेडियम में दर्शकों के बैठने की क्षमता 60,000 है जो कि इंग्लैंड में किसी भी क्रिकेट स्टेडियम से दोगुने से भी ज्यादा हैं। इस बात की संभावनाएं हैं कि स्टेडियम में 2-3 मैच खेले जा सकते हैं। क्रिकेट के इस मेगा ईवेंट की दीवानगी को देखकर कहा जा सकता है कि स्टेडियम खचाखच भरा होगा। साल 2015 में भी देखा गया था कि एमसीजी और ईडेन पार्क स्टेडियम पूरी तरह से भरे थे। ऐसे में इस बात के भी कयास लगाए जा रहे हैं कि स्टेडियम में उद्घाटन सेरेमनी भी आयोजित कराया जा सकता है। ये भी पढ़ें: अपने चयन को सही साबित करने की पूरी कोशिश करूंगा: परवेज रसूल

इससे पहले इंग्लैंड में आखिरी विश्व कप साल 1999 में खेला गया था। साफ है 20 साल बाद होने वाले इस विश्व कप को सफल बनाने के लिए इंग्लैंड पूरा दम लगा देगा और टूर्नामेंट को अब तक सबसे सफल बनाने की पूरी कोशिश करेगा। स्टेडियम में ‘ड्रॉप-इन’ पिच का इस्तेमाल किया जा सकता है। क्योंकि स्टेडियम में ज्यादातर फुटबॉल के मैच होते हैं ऐसे में पिच को बनाकर स्टेडियम में लाया जा सकता है। इसके अलावा लंदन स्टेडियम में टी20 मैच भी खेले जा सकते हैं और साल 2018 में एसेक्स के मैच इस स्टेडियम में कराए जा सकेत हैं। आपको बता दें कि इंग्लैंड में होने वाले अगले विश्व कप में 11 मैदानों पर 48 मैच खेले जाएंगे।