केन विलियमसन © Getty Images
केन विलियमसन © Getty Images

चैंपियंस ट्रॉफी के दूसरे मैच में न्यूजीलैंड ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ गजब का प्रदर्शन किया। मजबूत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कीवी टीम ने कप्तान केन विलियमसन के शतक(100 रन) और ल्यूक रॉन्की की 43 गेंद में 65 रन की पारी के दम पर 45 ओवर में 291 रन बनाए। विलियमसन और रॉन्की के अलावा रॉस टेलर ने भी 46 रनों का योगदान दिया। ऑस्ट्रेलिया के लिए जोश हेजलवुड ने 6 और हेस्टिंग्स ने 2 विकेट लिए।

न्यूजीलैंड की शानदार बल्लेबाजी

कीवी कप्तान केन विलियमसन ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी, उनके इस फैसले को बल्लेबाजों ने सही साबित किया। विलियमसन और रॉन्की ने न्यूजीलैंड को तेज शुरुआत दी। दोनों ने 34 गेंद में 40 रनों की साझेदारी की। ऑस्ट्रेलिया को पहली सफलता हेजलवुड ने गप्टिल को 26 रन पर आउट कर दिलाई। पहला विकेट गिरने के बाद भी कीवी टीम के बल्लेबाज थमे नहीं। ल्यूक रॉन्की ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की और कप्तान विलियमसन ने उनका बखूबी साथ दिया। बीच में बरसात हुई और खेल को कुछ समय तक रोकना पड़ा जिसके चलते दोनों टीमों के लिए 46-46 ओवर निर्धारित कर दिए गए।  ये भी पढ़ें-चैंपियंस ट्रॉफी, दूसरा मैच- ऑस्ट्रेलिया बनाम न्यूजीलैंड का स्कोरकार्ड

बरसात के बाद जब खेल शुरू हुआ तो न्यूजीलैंड की टीम ने और आक्रामक नीति अपनाई। खासकर ल्यूक रॉन्की ने खुलकर बल्लेबाजी की और उन्होंने सिर्फ 33 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा कर लिया। रॉन्की और विलियमसन ने 14.1 ओवर में टीम का स्कोर 100 के पार लगा दिया। कुछ देर बाद ऑस्ट्रेलिया को दूसरी और बड़ी सफलता मिली। हेस्टिंग्स की गेंद पर रॉन्की अपना विकेट गंवा बैठे। इसके बाद कप्तान विलियमसन और रॉस टेलर की अनुभवी जोड़ी ने मोर्चा संभाला। दोनों ही बल्लेबाजों ने तीसरे विकेट के लिए 18.1 ओवर में 99 रन जोड़े। इस बीच कप्तान विलियमसन ने 62 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। टेलर और विलियमसन ने 32.1 ओवर में न्यूजीलैंड के स्कोर को 200 रनों तक पहुंचाया।

न्यूजीलैंड को तीसरा झटका 34वें ओवर में रॉस टेलर के तौर पर लगा। टेलर 46 रन बनाकर हेस्टिंग्स का शिकार बने। कुछ देर बाद कप्तान विलियमसन ने वनडे क्रिकेट में अपना 9वां शतक पूरा किया लेकिन शतक बनाते ही वो 100 रन पर रन आउट हो गए। विलियमसन के आउट होने के बाद कीवी टीम ने ब्रूम, नीशम और कोरे एंडरसन के विकेट जल्दी-जल्दी गंवा दिए। कीवी टीम ने आखिरी 7 विकेट सिर्फ 37  रन पर गंवा दिए। हेजलवुड ने 45वें ओवर में कुल 3 विकेट झटके और न्यूजीलैंड की टीम 45 ओवर में 291 रनों पर ऑल आउट हो गई।