रोहित शर्मा और ग्लेन मैक्सवेल  © Getty Images
रोहित शर्मा और ग्लेन मैक्सवेल © Getty Images

चैंपियंस ट्रॉफी के लिए अब बस कुछ ही दिन बाकी रह गए हैं और ऐसे में टूर्नामेंट को लेकर हर कोई उत्साहित नजर आ रहा है। हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क ने माना कि टूर्नामेंट के फाइनल में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच मुकाबला खेला जाएगा। क्लार्क ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमें फाइनल में पहुंचेंगी। ब्रिटेन में हालात अहम भूमिका निभाएंगे। उदाहरण के तौर पर अगर गेंदबाजों को स्विंग और सीम मिलेगी तो ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाजों का सामना करना मुश्किल होगा। इससे हम अच्छी स्थिति में होंगे। मिचेल स्टार्क, जेम्स पैटिनसन, जोश हेजलवुड, पेट कमिंस का सामना करना मुश्किल हो सकता है।’’ ये भी पढ़ें: प्रिव्यू: प्लेऑफ में जगह बनाने के लिए उतरेगी सनराइजर्स हैदराबाद

क्लार्क ने आगे कहा कि अगर वहां गर्मी होती है और कुछ टर्न मिलता है तो भारत के दोनों स्पिनरों रविंद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन का सामना करना कठिन होगा। क्लार्क ने कहा, ‘‘अगर वहां गर्मी होती है और विकेट स्पिन गेंदबाजों को मदद करती है तो ऐसी पिचों पर अश्विन और जडेजा से बेहतर कोई नहीं होगा। यह भारत के पक्ष में होगा। जडेजा के रूप में भारत के पास बेहतरीन स्पिनर है जो बल्लेबाजी भी कर सकता है। वो विश्व क्रिकेट के किसी अन्य स्पिनर जितना ही अच्छा है।’’ आपको बता दें कि चैंपियंस ट्रॉफी की शुरुआत 1 जून से होनी है और भारत को अपना पहला मुकाबला 4 जून को पाकिस्तान के खिलाफ खेलना है।