रविंद्र जडेजा © AFP (File Photo)
रविंद्र जडेजा © AFP (File Photo)

रविंद्र जडेजा लगातार चैंपियंस ट्रॉफी में अपनी चमक बिखेर रहे हैं। साल 2013 संस्करण में शानदार प्रदर्शन करने के बाद जडेजा ने बांग्लादेश के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में एक विकेट लेने के साथ ही भारत की ओर से चैंपियंस ट्रॉफी में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लियाा। जडेजा के नाम चैंपियंस ट्रॉफी के 9 मैचों में 16 विकेट हो गए हैं। इसके साथ ही उन्होंने टीम इंडिया के सबसे बेहतरीन गेंदबाज जहीर खान के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया है। जहीर ने चैंपियंस ट्रॉफी के 9 मैचों में 15 विकेट लिए हैं। इस तरह से वह भारत के लिए टूर्नामेंट के इतिहास में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं। वैसे मौजूदा संस्करण में वह खास कमाल नहीं दिखा पाए हैं और चार मैचों में कुल 4 विकेट लेने में सफल रहे हैं।

बांग्लादेश के खिलाफ सेमीफाइनल मैच के दौरान जडेजा ने फॉर्म में चल रहे बल्लेबाज शाकिब अल हसन को आउट किया। उन्होंने उन्हें 15 रनों के व्यक्तिगत स्कोर पर विकटों के पीछे एमएस धोनी के हाथों झिलवाया। भारत की ओर से चैंपियंस ट्रॉफी में सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में 15 विकटों के साथ जहीर खान दूसरे नंबर पर हैं। तीसरे नंबर पर हरभजन सिंह हैं जिनके नाम 13 मैचों में 14 विकेट हैं। वहीं चौथे व पांचवें नंबर पर सचिन तेंदुलकर और ईशांत शर्मा हैं जिन्होंने क्रमशः 14 और 13 विकेट झटके हैं। तेंदुलकर ने 14 विकेट 16 मैचों में वहीं ईशांत ने 13 विकेट 7 मैचों में लिए हैं। [भारत बनाम बांग्लादेश, दूसरा सेमीफाइनल, फुल स्कोरकार्ड जानने के लिए क्लिक करें…]

टीम इंडिया ने चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के सेमीफाइनल में प्रवेश ग्रुप स्टेज के तीन में से दो मैच जीतते हुए किया था। इस दौरान टीम इंडिया ने पाकिस्तान को हराया था, दूसरा मैच श्रीलंका के हाथों हारे थे, तीसरे मैच में दक्षिण अफ्रीका को हराते हुए सेमीफाइनल में प्रवेश किया। सेमीफाइनल में उन्होंने बांग्लादेश को भी 9 विकेट से हरा दिया और अब वे फाइनल में प्रवेश कर चुके हैं। फाइनल में उनका मुकाबला 18 जून को पाकिस्तान से होगा। जैसा कि ग्रुप स्टेज में वे पाकिस्तान को एक बार हरा चुके हैं ऐसे में उनके पास मनोवैज्ञानिक लाभ जरूर होगा।