पाकिस्तान ने चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल में भारत को 180 रनों से हराया था © Getty Images
पाकिस्तान ने चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल में भारत को 180 रनों से हराया था © Getty Images

भारतीय पुलिस ने 15 मुस्लिम लोगों को पाकिस्तान टीम की जीत का जश्न मनाते समय गिरफ्तार तक देशद्रोह के आरोप के तहत गिरफ्तार कर लिया। ये सभी लोग मध्य प्रदेश के बुरहानपुर गांव के रहने वाले हैं। पुलिस को सोमवार को ये शिकायत मिली थी कि कुछ लोग रविवार को पाकिस्तान की भारत के खिलाफ जीत के बाद पाकिस्तान के नारे लगाते हुए पटाखे फोड़ रहे थे और पटाखे फोड़ रहे थे। बुराहनपुर के पुलिस अध्यक्ष राजा राम ने बताया कि, “एक स्थानीय व्यक्ति ने इन लोगों पर भारत की हार का जश्न मनाने की शिकायत दर्ज कराई थी।

पुलिस अधिकारी ने आगे कहा कि आरोपियों पर आपराधिक साजिश करने और संवेदनशील इलाके में घंटो तक शोर मचाने का मामला दर्ज किया गया है। इस गांव में बड़ी संख्या में मुस्लिम रहते हैं, साथ ही यहां पहले भी कई बार दोनों पक्षों में भिड़ंत हो चुकी है। भारत-पाकिस्तान मैच के दौरान दोनों देश के फैंस काफी उत्साहित हो जाते हैं। हालांकि यह पहला मामला नहीं है जह किसी क्रिकेट की वजह से किसी की गिरफ्तारी हुई है। साल 2014 में पाकिस्तान टीम की जीत का जश्न मानाने पर करीबर 60 छात्रों को गिरफ्तार किया गया था। [ये भी पढ़ें: भारतीय टीम के तीन दिग्गजों ने किया ऐसा काम कि पाकिस्तानी खिलाड़ी अजहर अली ने भी कहा ‘शुक्रिया’]

ऐसा नहीं है कि इस तरह की घटनाएं भारत में ही होती हैं। पिछले साल पाकिस्तान में एक युवक ने अपने घर की छत पर तिरंगा लगाने के लिए गिरफ्तार कर लिया गया था। वह युवक विराट कोहली का प्रशंसक था और उसने कोहली के शतक लगाने की खुशी में ऐसा किया था।