दिल्ली के प्रदूषण के बाद श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने पहना मास्क © AFP
दिल्ली के प्रदूषण के बाद श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने पहना मास्क © AFP

दिल्ली में भारत और श्रीलंका के बीच खेला गया तीसरा और आखिरी टेस्ट क्रिकेट से ज्यादा प्रदूषण की वजह से चर्चा रहा। कोटला में खेले गए तीसरे टेस्ट के दूसरे, चौथे और पांचवें दिन प्रदूषण से खिलाड़ियों को बहुत दिक्कत हुई। श्रीलंका के खिलाड़ी हों या भारतीय खिलाड़ी सभी को इससे परेशानी हुई। सुरंगा लकमल को मैदान पर ही उल्टियां हुई तो वहीं मोहम्मद शमी के साथ भी ऐसा ही देखने को मिला। ऐसे में अब खबर आ रही है कि इन सब बातों पर गंभीरता से गौर करते हुए आईसीसी आने वाले दिनों में खेलने के हालात से जुड़े नियमों में वायु प्रदूषण को भी शामिल कर सकता है।

आईसीसी ने इस मामले को अपनी मेडिकल समिति के पास भेजने का फैसला किया है जिसे संबंधित रिपोर्ट और मैच के दौरान दिल्ली में वायु गुणवत्ता के आंकड़े मुहैया कराए जाएंगे। आईसीसी के प्रवक्ता ने पीटीआई से कहा, ‘दिल्ली टेस्ट जिन हालात में खेला गया आईसीसी ने उन पर गौर किया है और आग्रह किया है कि मेडिकल समिति इस मुद्दे पर दिशानिर्देश जारी करने पर विचार करे जिससे कि भविष्य में दोबारा ऐसी स्थिति आने पर उससे निपटा जा सके। इस मुद्दे पर फरवरी में आईसीसी की बैठक के दौरान चर्चा होने की संभावना है। ’’ इसके बाद खेलने के हालात से जुड़े नियमों में थोड़ा बदलाव हो सकता है और इसमें वायु प्रदूषण के कारण खिलाड़ियों के स्वास्थ्य को नुकसान से संबंधित नियम शामिल किए जा सकते हैं।

एशेज सीरीज में इंग्लैंड का होगा क्लीन स्वीप, 5-0 से जीतेगा ऑस्ट्रेलिया!
एशेज सीरीज में इंग्लैंड का होगा क्लीन स्वीप, 5-0 से जीतेगा ऑस्ट्रेलिया!

आपको बता दें इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने भी बीसीसीआई को एक खत लिख कहा था कि प्रदूषण से खिलाड़ियों को भविष्य में परेशानी आ सकती है और दिल्ली में क्रिकेट खेलना सही नहीं है। इसके अलावा प्रदूषण को लेकर हुए विवाद के बाद बीसीसीआई ने ये बयान दिया था कि दिल्ली में होने वाले मैचों को कहीं और शेड्यूल करने के बारे में सोचा जा सकता है। (पीटीआई के इनपुट के साथ)