ICC to BCCI: Request MS Dhoni to remove Army insignia from gloves
MS Dhoni @ AFP

अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने बीसीसीआई से अपील करते हुए कहा है कि वह विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी से उनके दस्तानों पर बने सेना के चिन्ह को हटाने को कहे।

आईसीसी विश्व कप-2019 में भारत के पहले मैच में धोनी को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विकेटकीपिंग दस्तानों पर भारतीय पैरा स्पेशल फोर्स का चिन्ह का इस्तेमाल करते देखा गया था। आईसीसी ने बीसीसीआई से कहा है कि वह धोनी के दस्तानों पर से यह चिन्ह हटवाए।

पढ़ें:- ओपनर रितुराज गायकवाड़ ने खेली नाबाद 187 रन की पारी, इंडिया ए जीता

आईसीसी के महाप्रबंधक, रणनीति समन्व्य, क्लेयर फरलोंग ने आईएएनएस से कहा, “हमने बीसीसीआई से इस चिन्ह को हटवाने की अपील की है।” धोनी के दस्तानों पर ‘बलिदान ब्रिगेड’ का चिन्ह है। सिर्फ पैरामिल्रिटी कमांडो को ही यह चिन्ह धारण करने का अधिकार है।

धोनी को 2011 में पैराशूट रेजिमेंट में लेफ्टिनेंट कर्नल के मानद उपाधि मिली थी। धोनी ने 2015 में पैरा ब्रिगेड की ट्रेनिंग भी ली है। इस पर हालांकि सोशल मीडिया पर धोनी की काफी तारीफ हो रही है, लेकिन आईसीसी की सोच और नियम अलग हैं।

पढ़ें: कूल्‍टर नाइल और स्मिथ के अर्धशतकों से ऑस्‍ट्रेलिया ने रखा 289 रन का लक्ष्‍य

आईसीसी के नियम के मुताबिक, “आईसीसी के कपड़ों या अन्य चीजों पर अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान राजनीति, धर्म या नस्लभेदी जैसी चीजों का संदेश नहीं होना चाहिए।”