ICC U-19 World Cup 2020: Zaheer Khan Confident India will do well against Pakistan in semi-final
Zaheer Khan @ IANS

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान ने उम्मीद जताई की मंगलवार को आईसीसी अंडर-19 विश्व कप के सेमीफाइनल में चिर-प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ भारतीय टीम अच्छा प्रदर्शन करेगी।

हर दिन मुझे एक नई जिम्मेदारी दी जाती है: केएल राहुल

भारत ने क्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को जबकि पाकिस्तान ने अफगानिस्तान को हराया। दोनों टीमें सेमीफाइनल तक की राह में अपराजेय रही हैं।

जहीर ने सोमवार को एक कार्यक्रम में कहा, ‘अंडर-19 टीम के हमारे खिलाड़ी अच्छा कर रहे हैं। उन्हें कुछ मुश्किल परिस्थितियों का सामना करना पड़ा है लेकिन उन्होंने अच्छी वापसी की।’

जहीर ने यहां नेशनल क्रिकेट क्लब में कहा, ‘जब आप भारत-पाकिस्तान की बात करते हैं तो हमेशा पूरी प्रतियोगिता से ज्यादा उत्सुकता उस मैच की रहती है। मैं इस बात को लेकर अश्वस्त हूं कि हमारे खिलाड़ी इस बड़े मैच में और बेहतर प्रदर्शन करेंगे।’

तमीम इकबाल ने ट्रिपल सेंचुरी जड़ बनाया बांग्लादेश में सर्वोच्च स्कोर का रिकॉर्ड, संगकारा को पीछे छोड़ा

वह यहां आईपीएल चैंपियन मुंबई इंडियंस की अंतर-स्कूल क्रिकेट प्रतियोगिता ‘एमआई जूनियर’ में खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाने पहुंचे थे।
उन्होंने इस मौके पर अंडर19 टीम में शामिल स्थानीय खिलाड़ी यशस्वी जायसवाल की भी तारीफ की।

उन्होंने कहा, ‘वह अच्छा कर रहे हैं। उन्होंने घरेलू एकदिवसीय श्रृंखला में प्रभावशाली प्रदर्शन किया है। मैं उन्हें शुभकामनाएं देता हूं। उनके पास अच्छा करने की क्षमता है।’

जहीर ने इस मौके पर पाकिस्तान के साथ विश्व कप में खेले गए अपने मुकाबलों को याद किया। खास बात यह है कि जहीर ने भी पाकिस्तान के खिलाफ अपना पहला मुकाबला 2003 विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका में ही खेला था जो मौजूदा अंडर-19 विश्व कप की मेजबानी कर रहा है।

जहीर ने कहा, ‘मेरे लिए पाकिस्तान के खिलाफ 2003 और 2011 के दोनों मुकाबले बेहद खास थे क्योंकि हमने उसमें जीत दर्ज की। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 2003 में मैं पहली बार उनके खिलाफ खेला था इसलिए मेरे लिए वह ज्यादा यादगार रहेगा।’

जहीर ने इस मौके पर टी20 विश्व कप के लिए भारतीय महिला टीम को भी शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा, ‘वे (महिला टीम) शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्हें जो भी मौके मिले हैं उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया। ऐसे में इस विश्व कप के जरिये उनके पास देश की लड़कियों को प्रेरित करने का एक और मौका होगा।’