भारतीय अंडर-19 टीम के कप्तान यश ढुल ने अंडर-19 आईसीसी क्रिकेट विश्व कप के शुरुआती मैच में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 82 रनों की शानदार पारी के बावजूद कहा कि उनकी बल्लेबाजी में और सुधार करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि जो गलतियां मैच में की, वो इसे दोहराना नहीं चाहेंगे।

मैच में ढुल ने कप्तानी पारी खेली, जबकि बाएं हाथ के स्पिनर विक्की ओस्तवाल ने पांच विकेट लिए, जिसके कारण भारत ने दक्षिण अफ्रीका को ग्रुप बी मैच में रविवार को 45 रन से हरा दिया। चार बार की चैम्पियन टीम ने प्रोटियाज को जीत के लिए 233 रनों का लक्ष्य दिया था, जिसके बाद विरोधी टीम को 45.4 ओवर में 187 रन पर समेट दिया।

अगर सिंगल लेते समय ढुल रन आउट ना होते, तो वो अपना शतक जरूर पूरा करते। इससे पहले, वार्मअप मैचों के दौरान ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज के खिलाफ अर्धशतक लगाया था। इसके साथ ही दाएं हाथ के बल्लेबाज ने अब लगातार तीन अर्धशतक बना लिए हैं। ढुल ने कहा, “हां, ये एक अच्छी शुरुआत है। हम यहां से आगे और अच्छी चीजों के साथ बढ़ेंगे और मैच दर मैच सुधार करने की कोशिश करेंगे।”

82 रन पर आउट का जिक्र करते हुए ढुल ने कहा कि ये सुनिश्चित करेंगे कि यहां अगले मैच में वही गलतियां ना करें। ढुल ने कहा, “हां, मैं अपने प्रदर्शन से खुश हूं, लेकिन मैं ये सुनिश्चित करना चाहता हूं कि इस खेल में मैंने जो गलतियां की हैं, उन्हें दोहराया ना जाए और अगले गेम में बेहतर किया जाए।”

उन्होंने गेंदबाजों की तारीफ करते हुए कहा कि हां, गेंदबाजों (विक्की ओस्तवाल और राज बावा) ने संयोजन में गेंदबाजी की, जो आगे बढ़ने वाली टीम के लिए अच्छा है।

बाएं हाथ के स्पिनर ओस्तवाल ने पांच विकेट लिए, जबकि दाएं हाथ के तेज गेंदबाज बावा ने चार विकेट लिए, जिसे भारत मामूली स्कोर का बचाव करने में सफल रहा।