ICC women world T20 2018: India won the toss elected to bat first
Smriti-mandhana © Getty Images (file image)

सलामी बल्‍लेबाज स्‍मृति मंधाना (83) की अर्धशतकीय पारी के बाद स्पिन गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के बूते  भारतीय टीम ने ऑस्‍ट्रेलिया को 48 रन से हराकर आईसीसी महिला टी-20 विश्‍व कप मेें अपनी लगातार चौथी जीत दर्ज की।

हरमनप्रीत कौर की अगुवाई वाली टीम इंडिया की ओर से रखे गए 168 रन के लक्ष्‍य का पीछा करने उतरी ऑस्‍ट्रेलियाई टीम 19.4 ओवर में 119 रन ही बना सकी।  उसकी ओर से एलीस पेरी ने सबसे अधिक नाबाद 39 रन की पारी खेली।

भारत की ओर से अनुजा पाटिल ने तीन जबकि दीप्ति शर्मा, राधा यादव और पूनम यादव ने 2-2 खिलाडि़यों को पवेलियन भेजा।

भारत ने 8 विकेट पर 167 रन बनाए थे

टॉस जीतकर भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मंधाना की आतिशी पारी के दम पर 20 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 167 रन बनाए। यह भारत का इस खेल के सबसे छोटे प्रारुप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सर्वोच्च स्कोर भी है।

ऑस्ट्रेलिया की यह इस विश्व कप में पहली हार है। वहीं भारत ने अपने विजयी क्रम को जारी रखते हुए जीता चौका लगाया। दोनों टीमें हालांकि पहले ही सेमीफाइनल में पहुंच चुकी हैं।

मंधाना ने टी-20 में 1,000 रन पूरे किए 

मिताली राज को भारत ने आराम दिया और मंधाना ने अनुभवी खिलाड़ी की गैरमौजूदगी में जिम्मेदारी लेते हुए इस विश्व कप में अपना पहला अर्धशतक भी जमाया। मंधाना ने 55 गेंदों में नौ चौके और तीन छक्कों की मदद से आतिशी पारी खेली।

मंधाना ने इस मैच में टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में अपने 1000 रन भी पूरे कर लिए। वह मिताली राज के बाद सबसे तेज 1000 रन पूरे करने वाली दूसरी खिलाड़ी हैं।

अनुजा, पूनम, दीप्ति और राधा की स्पिन जोड़ी ने किया परेशान

मंधाना के बाद अनुजा पाटिल, दीप्ती शर्मा, पूनम यादव और राधा यादव की स्पिन चौकड़ी ने परेशान किया। इन चारों गेंदबाजों ने आपस में नौ विकेट बांटे। एलिसे हिली चोटिल होने के कारण बल्लेबाजी करने नहीं आईं। अनुजा ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए बाकी तीन गेंदबाजों ने दो-दो विकेट अपने नाम किए।

सर्वोच्‍च स्‍कोरर रहीं पेरी 

ऑस्ट्रेलिया के लिए एलिसे पैरी ने सबसे ज्यादा नाबाद 39 रन बनाए। उन्होंने 28 गेंदों की अपनी पारी में तीन चौके और एक छक्का लगाया। उनके बाद एशले गार्डनर 20 रनों के साथ टीम की दूसरी सर्वोच्च स्कोरर रहीं।

कप्‍तान हरमनप्रीत कौर और मंधाना ने जोड़े 68 रन 

भारत को मजबूत स्कोर तक पहुंचाने में कप्तान हरमनप्रीत कौर ने मंधाना का अच्छा साथ दिया और तीसरे विकेट के लिए 68 रन जोड़े। यह साझेदारी तब आई जब भारत ने 49 रनों के स्कोर पर ही अपनी दो बल्लेबाजों को खो दिया था।

मंधाना के साथ तान्या भाटिया को पारी की शुरुआत के लिए भेजा गया। तान्या (2) पांच के कुल स्कोर पर आउट हो गईं। जेमिमा रोड्रिग्‍स  (6) भी कुछ खास नहीं कर पाईं।

इसके बाद कप्तान और मंधाना ने भारतीय पारी को आगे बढ़ाया और तेजी से रन बटोरे। कौर अपने अर्धशतक की ओर बढ़ रही थीं, तभी डेलिसा किममिंसे ने उन्हें 117 के कुल स्कोर पर आउट कर दिया। उन्होंने अपनी आतिशी पारी में 27 गेंदों का सामना करते हुए तीन चौकों के साथ इतनी ही छक्के लगाए।

हरमनप्रीत के आउट हो  जाने के बाद मंधाना अकेली पड़ गईं और एक बार फिर टीम के मध्य क्रम और निचले क्रम की कमजोरी उजागार हुई। वेदा कृष्णामूर्ति (3), डायलान हेमलता (1) का बल्ला फिर नहीं चला। मंधाना की पारी का अंत 154 के कुल स्कोर पर 19वें ओवर की पहली गेंद पर हुआ।

दीप्ती ने आठ रन बनाए। राधा एक रन बनाकर नाबाद रहीं।

ऑस्ट्रेलिया की एलिस पेरी ने तीन विकेट लिए। गर्डनर, डेलिसे किममिंसे ने दो-दो विकेट लिए। मेगन शट को एक सफलता मिली।