ICC World Championship great for Test cricket says Former Australia captain Steve Waugh
Former Australia captain Steve Waugh

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान स्टीव वॉ का मानना है कि आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप (डब्ल्यूटीसी) क्रिकेट से सबसे लंबे प्रारूप में रोमांच लाएगा। टेस्ट चैम्पियनशिप की शुरुआत एक अगस्त को होने वाले पहले एशेज टेस्ट मैच के साथ होगी। टूर्नामेंट में विश्व की शीर्ष-9 टीमें दो साल तक कुल 71 मैच खेलेगी।

टॉप दो टीमें जून 2021 में टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में भिड़ेगीं और विजेता को खिताब दिया जाएगा। फाइनल मुकाबला इंग्लैंड में खेला जाएगा। ‘क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू’ ने वॉ के हवाले से बताया, “मैं समझता हूं कि टेस्ट क्रिकेट के लिए यह बहुत अच्छा कदम है।”

पढ़ें:- टेस्ट चैंपियनशिप का सबसे मुश्किल दौरा भारत का होगा: प्लेसिस

एक कप्तान के रूप में वॉ का जीत प्रतिशत 71.93 है जोकि 10 से अधिक टेस्ट मैचों में अपने देश की कप्तानी करने के वाले किसी भी खिलाड़ी से ज्यादा है। वह मानते हैं कि अगर उनके समय में यह टूर्नामेंट शुरू किया जाता तो उनकी जीत को अधिक महत्व मिलता।

वॉ ने कहा, “मैंने 18 साल तक खेला और कई लोगों ने कहा कि हम दुनिया की नंबर एक टेस्ट टीम थे, लेकिन मुझे लगता है कि जब तक आप ट्रॉफी नहीं पकड़ते या आप फाइनल मैच में नहीं खेलते तब तक आप निश्चित नहीं होते है। मुझे लगता है कि टेस्ट क्रिकेट को इसकी जरूरत है।”

पढ़ें:- ICC वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप टेस्ट क्रिकेट को प्रासंगिक बनाएगी: कोहली

उन्होंने कहा, “आपके पास टी-20 विश्व कप और 50 ओवर का विश्व कप है, लेकिन अगर आप दुनिया की बेस्ट टेस्ट टीम हैं तो आपको कोई ट्रॉफी चाहिए होती है। मैं समझता हूं कि खिलाड़ी अभी भी सर्वश्रेष्ठ टेस्ट क्रिकेटर एवं टीम बनना चाहते हैं और इसे मापने के लिए यह चैम्पियनशिप सबसे अच्छा तरीका है।”

हर सीरीज में कुल 120 अंक दाव पर होंगे।