ICC WORLD CUP 2019, 10th match: Australia vs West Indies, Match Preview, at Nottingham
Windies Team@ AFP (FILE Image)

जेसन होल्डर की अगुवाई वाली वेस्टइंडीज टीम तेज गेंदबाजों के दम पर गुरुवार को 5 बार की चैंपियन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उतरेगी तो उसका इरादा विश्व कप में अपना खोया गौरव लौटाने का होगा ।

पढ़ें: न्‍यूजीलैंड ने टॉस जीतकर बांग्‍लादेश को बल्‍लेबाजी के लिए आमंत्रित किया

दो बार की चैंपियन वेस्टइंडीज टीम ने पहले मैच में पाकिस्तान को सिर्फ 105 रन पर आउट करके 7 विकेट से जीत दर्ज की। ओशाने थॉमस ने 27 रन देकर 4 विकेट लिए जबकि आंद्रे रसेल, शेल्‍डन कोट्रेल और कप्तान होल्डर से उन्हें पूरा सहयोग मिला।

वेस्टइंडीज ने विश्व कप 1975 के फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को हराया था और उस टीम में चार तेज गेंदबाज थे।

चार साल बाद लॉर्डस पर फाइनल में वेस्टइंडीज ने इंग्लैंड को हराकर खिताब बरकरार रखा। उस टीम में एंडी रॉबटर्स, माइकल होल्डिंग, कोलिन क्रोफ्ट और जोएल गार्नर थे।

मौजूदा टीम में उस दर्जे के तेज गेंदबाज नहीं है लेकिन केमार रोच और शैनन गैब्रियल के बिना पाकिस्तान को सस्ते में समेटकर उसके गेंदबाजों ने साबित कर दिया कि उनमें कितना दम है।

पढ़ें: बुकी सम्बंधी मुंबई के खिलाड़ी की शिकायत की जांच करेगा एसीयू : सीओए

वे विश्व कप में भले ही क्वालीफाइंग दौर से गुजरकर आए हों लेकिन अपना दिन होने पर किसी भी टीम को हरा सकते हैं।

दूसरी ओर ऑस्ट्रेलिया ने पहले मैच में अफगानिस्तान को 7 विकेट से हराया लेकिन इस मैच में उनके सामने चुनौती कड़ी होगी। पिछले तीन में से दो टी20 विश्व कप जीत चुकी वेस्टइंडीज टीम के लिए थॉमस ने अभ्यास मैच में डेविड वार्नर को सस्ते में आउट किया था।

वेस्टइंडीज की एक कमजोरी यह है कि बाउंसर जैसे हथियार को वे बार बार इस्तेमाल करते हैं। दूसरी ओर एक साल के प्रतिबंध के बाद लौटे वार्नर और स्टीव स्मिथ शॉर्ट गेंदों को झेलने में माहिर हैं।

वेस्टइंडीज के पास क्रिस गेल जैसा शानदार बल्लेबाज है जो अपने दम पर मैच जिताने का माद्दा रखता है।

दूसरी ओर ऑस्ट्रेलिया के पास भी मिशेल स्टार्क और पैट कमिंस जैसे तेज गेंदबाज हैं। वेस्टइंडीज के 1975 और 1979 विश्व कप विजेता कप्तान क्लाइव लॉयड ने कहा, ‘ऑस्ट्रेलिया के पास बहुत अच्छी टीम है। अब देखना यह है कि इस दबाव का वेस्टइंडीज कैसे सामना करती है। यह एक अच्छा मैच होगा।’