ICC World Cup 2019: Aaron Finch, Virat Kohli not happy with Zing bails
डेविड वार्नर (IANS)

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच रविवार को केनिंग्टन ओवल में खेले गए आईसीसी विश्व कप मैच में एक बार फिर जिंग बेल्स की खराबी देखे को मिली। मैच के दौरान जब जसप्रीत बुमराह की गेंद ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर स्टंप की तरफ गई और बेल्स नहीं गिरी तो भारत ने एक अहम विकेट का मौका गंवाया।

दुर्भाग्य की बात ये है कि इस विश्व कप में ऐसा पहली बार नहीं हुआ जब गेंद लगने के बावजूद विकेट नहीं गिरा। ये ज़िंग बेल्स के साथ टूर्नामेंट में पांचवीं बार हुआ है। जिससे विराट कोहली और एरोन फिंच दोनों ही परेशान हैं। मैच के बाद इस बारे में बात करते हुए कंगारू कप्तान ने कहा, “मुझे लगता है कि ये समस्या है, आज हम इसके सही पक्ष में थे लेकिन अगर ये होता रहता है ये दुर्भाग्य की बात होगी। आप विश्व कप फाइनल में इस तरह की चीज नहीं देखना चाहेंगे।”

भारतीय कप्तान ने भी इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी। कोहली ने कहा, “आप अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर इस तरह की चीजों की उम्मीद नहीं करते हैं। तकनीक बहुत अच्छी है जिस तरह से स्टंपिंग वगैरह करने पर बेल्स की लाइट जलती है। और ये तेज गेंदबाज हैं, ये कोई मध्यम गति के गेंदबाज नहीं हैं। मुझे नहीं पता, एमएस ने कहा कि उन्होंने विकेट की जगह को भी चेक किया वो ज्यादा मजबूती से नहीं लगा था बल्कि वो काफी ढीला था।”

धोनी का छक्का देख हैरान हुए कोहली, ओवल में उमड़ा नीला समंदर

वॉर्नर की घटना के बाद न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज जिमी नीशम ने ट्वीट किया, “मैं समझता हूं कि स्टंप और बेल्स में इलेक्ट्रॉनिक्स उन्हें भारी बनाते हैं। क्या ये समस्या ठीक नहीं होगी?”

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने भी कार्रवाई के लिए कहा। उन्होंने बीबीसी से बातचीत में कहा “यह हास्यास्पद है। यह प्रति घंटे 80-मील की दूरी पर है और यह लेग स्टंप से टकराया है। हार्ड। कुछ करने की जरूरत है। यह पागलपन है,”

जसप्रीत बुमराह जैसा गेंदबाज टीम में होना सपने जैसा: भरत अरुण

गुरुवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वेस्टइंडीज के मैच में क्रिस गेल भी इसी तरह आउट होने से बचे। इससे पहले दक्षिण अफ्रीका के क्विंटन डी कॉक का टूर्नामेंट के शुरुआती मैच में इंग्लैंड के खिलाफ बचना और श्रीलंका के दिमुथ करुणारत्ने का न्यूजीलैंड के खिलाफ बचना शामिल था।

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने ‘zing’ bails ‘का उपयोग करते हुए बचाव किया है, लेकिन ये सुझाव दिया गया है कि रोशनी को काम करने के लिए आवश्यक तारों के कारण बेल्स और स्टंप सामान्य उपकरणों की तुलना में भारी हैं।