ICC World Cup 2019: Give him any role, Hardik Pandya takes it with smile, says KL Rahul
Hardik Pandya with teammates

भारतीय टीम ने विश्व कप के दूसरे वार्म अप मैच में बांग्लादेश पर 95 रन से जीत दर्ज की। इस मैच में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे केएल राहुल ने शतकीय पारी खेली और इस नंबर पर चल रही परेशानी को खत्म किया। कप्तान विराट कोहली ने भी राहुल की तारीफ की और उन्हें चार नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भेजने के संकेत दिए।

इस मैच में राहुल के साथी ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने भी छोटी लेकिन अहम पारी खेली। राहुल ने हार्दिक की सराहना करते हुए कहा है कि उनको टीम के लिए अतिरिक्त जिम्मेदारी लेने में खुशी होती है।

पढ़ें:- ‘धोनी के साथ बल्‍लेबाजी करना सपने जैसा, वापसी का श्रेय द्रविड़ को’

मंगलवार को बांग्लादेश के खिलाफ अभ्यास मैच में शतक के साथ दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विश्व कप के पहले मैच में चौथे स्थान पर अपनी जगह सुनिश्चित करने वाले राहुल ने कहा कि पिछले दो साल में क्रिकेटर के रूप में हार्दिक ने काफी प्रगति की है।

राहुल ने बांग्लादेश के खिलाफ अभ्यास मैच के बाद कहा, ‘‘तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर होने के कारण वह टीम के ढांचे में अहम भूमिका निभाते हैं, फिर चाहे फॉर्मेट कोई भी हो। उनके पास कौशल है और सभी को यह बात पता है। लेकिन अब उन्होंने इस कौशल का इस्तेमाल किया है और पिछले दो साल में काफी प्रगति की है।’’

पढ़ें:- नंबर चार पर खेलेंगे केएल राहुल, कप्तान कोहली ने दिए संकेत

कुछ समय पहले ही राहुल और पांड्या एक लोकप्रिय टीवी कार्यक्रम में महिलाओं के प्रति विवादास्पद टिप्पणी के कारण विवादों में घिर गए थे। इन दोनों को 30 मई से शुरू हो रहे विश्व कप में भारत के लिए महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

डेथ ओवर्स में बल्ले से ही नहीं बल्कि तेज गेंदबाज के रूप में भी टीम में हार्दिक की भूमिका अहम होगी। राहुल का मानना है कि इस ऑलराउंडर के लिए टूर्नामेंट सफल रहेगा।

उन्होंने कहा, ‘‘टेस्ट क्रिकेट में फॉर्म की बात करें तो हार्दिक ने इंग्लैंड में अच्छा किया और केपटाउन में भी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 90 रन बनाए। दबाव में उन्होंने टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन किया है। वह ऐसे खिलाड़ी हैं जिससे टीम काफी उम्मीद कर सकती है और उन्होंने हमेशा जिम्मेदारी निभाई है।’’

राहुल ने कहा, ‘‘हार्दिक को कोई भी भूमिका दीजिए और वह इसे खुशी से स्वीकार करते हैं। वह अपनी टीम के लिए प्रदर्शन करना चाहते हैं और अपना सब कुछ झोंक देते हैं। यही उनको वह बनाता है जो वह हैं। वह मैदान पर हमेशा शत प्रतिशत देते हैं।’’