ICC World Cup 2019: I am a fast bowler, not medium pacer, says Andre Russell
Andre Russell@IANS

वेस्टइंडीज के ऑलराउंडर आंद्रे रसेल को उनकी आतिशी बल्लेबाजी के लिए जाना जाता है। रसेल को इस बात का दुख है कि लोग उनको बतौर विस्फोटक बल्लेबाज जानते हैं जबकि वह खुद को एक तेज गेंदबाज बुलाया जाना पसंद करते हैं।

रसेल ने कहा, ”काफी लोग कहते हैं कि मैं एक बिग हिटर होने के नाते टीम में हूं लेकिन वो मुझे एक तेज गेंदबाज के तौर पर नहीं देखते हैं। वो मेरी काबिलियत को कम आंकते हैं। मुझे काफी बुरा लगता है कि लोग मुझे एक मध्यम गति का गेंदबाज मानते हैं।”

पढ़ें:- गेल, रसेल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मुकाबले से पहले फिट हो जाएंगे

रसेल एक तेज गेंदबाज के तौर पर सम्मान हासिल करना चाहते हैं, ”जब मेरा नाम बड़ी स्क्रीन पर आता है, तो मुझे मध्यम गति का गेंदबाज दिखाया जाता है। मुझे लगता है कि आप किसके बारे में बता रहे हैं। मैंने दिखाया है कि मैं 90 मील की रफ्तार से गेंदबाजी कर सकता हूं। मुझे लगता है उनको मेरे नाम के साथ थोड़ा सम्मान देना चाहिए।”

पाकिस्तान के खिलाफ विश्व कप के पहले मुकाबले में रसेल ने तीन ओवर में सिर्फ 4 रन देकर दो विकेट हासिल किए थे। पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने मैच के बाद कहा था, ”उनका (रसेल) स्पेल मैच का टर्निंग प्वाइंट था। उन्होंने दो विकेट हासिल किए और हमें बैकफुट पर धकेल दिया।”

पढ़ें:- विश्व कप में कई बड़ी टीमों को हरा सकती है वेस्टइंडीज: क्लाइव लॉयड

”मैं बताउं आपको कि मुझे बुरा लगता है। जो भी इस बात के लिए जिम्मेदार है, उसे मध्यम गति को बदलकर इसे तेज गेंदबाज करना चाहिए। क्योंकि जब मैंने खेलना शुरू किया था तब 80 से 85 मील की रफ्तार से गेंदबाजी करता था लेकिन अब मैं पहले से ज्यादा ताकतवर हूं और तेज गति से गेंदबाजी करता हूं। मैं इसमें निरंतरता बनाए रखता हूं।”

”जब विकेट धीमा होता है तो आपको आराम से गेंदबाजी करनी होती है। आप पिच को लेकर ज्यादा कुछ नहीं कर सकते लेकिन आप ऐसी किसी विकेट को देखते हैं तो जितनी तेज गति से हो उतनी तेज गेंदबाजी करना चाहते हैं।”