ICC World Cup: Adaptability is the key to World Cup success, says Tom Latham
टॉम लेथम, रॉस टेलर © AFP

न्यूजीलैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज टॉम लेथम का मानना है कि हालात के अनुकूल खुद को ढालने की क्षमता ही विश्व कप में सफलता पाने की कुंजी है।

पूर्व क्रिकेटर ब्रैंडन मैक्कुलम की कप्तान में न्यूजीलैंड टीम 2015 विश्व कप में पहली बार फाइनल में पहुंची थी लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हारकर उन्हें उप विजेता के खिताब से संतोष करना पड़ा था। लेथम को उम्मीद है कि पिछले विश्व कप के फार्मूले को अपनाकर इस बार भी न्यूजीलैंड अच्छा प्रदर्शन कर सकेगी।

उन्होंने कहा, “हमने 9 मैच 9 अलग वेन्यू पर खेले। इसलिए हर टीम और हर पिच के हिसाब से खुद को जल्द से जल्द ढालना अहम है। हम घर पर जिस तरह से सीरीज खेलते हैं, वहां आप एक टीम के खिलाफ दो-तीन मैच खेलते हैं और फिर उनके तरीके को समझ जाते हैं। लेकिन विश्व कप में, आपको एक ही मौका मिलता है और ये जरूरी है कि आप विपक्षी टीम के हिसाब से खुद को जल्दी ढाल लें।”

Dream11 Prediction: भारत-दक्षिण अफ्रीका मैच में इन खिलाड़ियों पर नजर

न्यूजीलैंड टीम आज द ओवल, लंदन में बांग्लादेश के खिलाफ अपना दूसरा लीग मैच खेलेगी। लेथम का कहना है कि उन्हें हाल ही में बांग्लादेश के खिलाफ खेलने का फायदा विश्व कप में मिलेगा।

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि हम खुशकिस्मत हैं कि श्रीलंका और बांग्लादेश जैसी टीमों ने हाल ही में न्यूजीलैंड का दौरा किया है। हम उन्हें जानते हैं।” न्यूजीलैंड टीम पहले मैच में श्रीलंका को हरा चुकी है और बांग्लादेश के खिलाफ जीत दर्ज करने को तैयार है।

ICC विश्व कप: कब और कहां देंखे भारत-दक्षिण अफ्रीका मैच

कीवी विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा, “मुझे लगता है कि श्रीलंका के खिलाफ हम जिस तरह से खेला वो आदर्श था, लेकिन हम जानते हैं कि हम इस पूरे टूर्नामेंट में दबाव में रहेंगे, इसलिए मैं निश्चित रूप से कल फिर से यही करने की चुनौती का इंतजार कर रहा हूं।”

याद दिला दें कि विश्व कप से पहले न्यूजीलैंड दौरे पर गई बांग्लादेश टीम को क्राइस्टचर्च में हुए आतंकी हमले के बाद सीरीज बीच में छोड़कर स्वदेश लौटना पड़ा था।