इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) का मौजूदा सीजन स्थगित होने के बाद भारतीय टीम का अगला पड़ाव इंग्लैंड में आयोजित होना वाली वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (ICC World Test Championship) का फाइनल है. यह मुकाबला 18-22 जून को साउथेम्पटन में भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेला जाएगा. दुनिया भर में फैले कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते सभी देशों में हेल्थ प्रोटोकॉल के तहत क्वॉरंटीन नियम बना रखे हैं. ऐसे में भारतीय टीम अब इंग्लैंड का दौरा तय शेड्यूल से पहले कर सकती है.

आईपीएल का 14वां सीजन हाल ही में कोविड- 19 के चलते अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया है. इसके बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने टीम इंडिया के अगले मिशन टेस्ट चैंपियनशिप पर अपना फोकस बढ़ा दिया है. स्पोर्ट्स तक की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय खिलाड़ी मई के अंतिम सप्ताह में ब्रिटेन के लिए रवाना हो सकते हैं. इससे पहले उन्हें जून के पहले सप्ताह में वहां जाना था.

इस रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है कि बीसीसीआई ब्रिटेन सरकार से इस संबंध में बातचीत कर रहा है. ताकि उसके खिलाड़ियों को जल्दी इंग्लैंड प्रवेश करने की इजाजत मिल सके. भारत में कोरोना की दूसरी लहर के गंभीर रूप अख्तियार करने के बाद ब्रिटेन भी भारत से होने वाली यात्राओं को ‘लाल श्रेणी’ में डाल दिया है, जिसका मतलब है कि फिलहाल भारतीय नागरिकों (23 अप्रैल से ) की ब्रिटेन में एंट्री पर बैन है.

इस रिपोर्ट की माने तो बीसीसीआई और इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ECB) ब्रिटिश सरकार के सामने यह प्रस्ताव रखेंगे. न्यूजीलैंड की टीम इस खिताबी मुकाबले क लिए पहले ही इंग्लैंड पहुंच जाएगी. वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप से पहले उसे इंग्लैंड के खिलाफ 2 टेस्ट मैचों की सीरीज भी खेलनी है. ऐसे में उसके पास इस खिताबी मुकाबले से पहले अभ्यास का अच्छा मौका होगा.