If AB De Villiers wanted to play World Cup he would have been here, says Coach Ottis Gibson
एबी डीविलियर्स © AFP

दक्षिण अफ्रीका के कोच ओटिस गिब्सन ने माना कि एबी डिविलियर्स के आखिर समय में विश्व कप में खेलने की विवादास्पद पेशकश को लेकर उठे विवाद के बाद पूछे जा रहे सवालों से वो परेशान हैं।

डिविलियर्स ने गिब्सन और दक्षिण अफ्रीकी कप्तान फाफ डु प्लेसिस से संपर्क करके कहा था कि वो संन्यास से वापसी करना चाहते हैं लेकिन इस पर सहमति बनी कि पिछले साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले डिविलियर्स की वापसी के लिए अब बहुत देर हो चुकी है। विश्व कप से पहले पाकिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ खेलने वाले दूसरे खिलाड़ियों के लिए ये अच्छा नहीं होगा।

डिविलियर्स की पेशकश के बारे में दक्षिण अफ्रीका की विश्व कप में लगातार तीसरी हार के बाद ही पता चला। इंग्लैंड, बांग्लादेश और भारत से हारने के बाद दक्षिण अफ्रीकी टीम का सामना अब सोमवार को वेस्टइंडीज से होगा और उसे सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए संभवत: अपने बाकी बचे सभी मैच जीतने होंगे।

राशिद खान की चोट पर बोले गुलबदीन नायब- मजबूत होते हैं अफगानी, ये छोटी सी बात

ऐसी स्थिति में गिब्सन मैदान से बाहर के इस मसले को लेकर परेशान हैं और इसके बजाय दक्षिण अफ्रीका के अभियान पर ध्यान देना चाहते हैं। उनसे शनिवार को संवाददाता सम्मेलन में इसको लेकर सवाल किए गए। गिब्सन ने खुलासा किया कि डिविलियर्स ने उनसे बात की थी और उन्होंने उनसे कहा कि उन्हें साल के शुरू में ही ये स्पष्ट कर देना चाहिए था।

उन्होंने कहा, ‘‘एबी ने मुझसे बात की। जिस दिन टीम का चयन किया जाना था ये उस दिन सुबह की बात है। इससे पहले काफी कुछ हो चुका था। हमने पहले ही फैसला कर लिया था कि अब बहुत देर हो चुकी है क्योंकि टीम में चयन के लिए दरवाजे दिसंबर तक ही खुले थे।’’

सिर पर गेंद लगने से सुन्न हुआ राशिद का दिमाग, नहीं मिली फील्डिंग की इजाजत

गिब्सन ने कहा, ‘‘अगर वो वास्तव में टीम में वापसी करना चाहता था तो वो जानता था कि पाकिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ वो दस मैच बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि मार्च से लेकर विश्व कप तक हमें अधिक क्रिकेट नहीं खेलनी थी। लेकिन ये सब जानते हुए भी वो अपनी पसंद के हिसाब से आगे बढ़ा। निजी तौर पर मुझे लगता है कि एबी से ज्यादा दूसरे लोग थे जो एबी को टीम में चाहते थे क्योंकि अगर एबी टीम में रहना चाहता तो वो यहां होता।’’