If I was a part of Virat Kohli’s team, We would have won 3 more World Cups: Sreesanth
Twitter

पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज श्रीसंत का 2007 T20 वर्ल्ड कप के फाइनल में ऐतिहासिक कैच लेने का लम्हा आज भी भारतीय क्रिकेट फैंस के जेहन में ताजा है। इस वर्ल्ड कप में श्रीसंत ने कमाल की गेंदबाजी करते हुए 7 मैचों की 6 पारियों में 6 विकेट चटकाए थे। केरला का ये गेंदबाज 2011 में धोनी की कप्तानी में 50 ओवर का वर्ल्ड कप जीतने वाले टीम का भी हिस्सा था। ऐसे में कहा जा सकता है कि श्रीसंत भारतीय टीम के लिए लकी रहे। श्रीसंत ने खुद भी ये स्वीकार करते हुए कहा है कि अगर कोहली की कप्तानी में टीम का हिस्सा होता तो भारत वर्ल्ड कप जीतने में कामयाब हो जाता।

बता दें, 2015 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम धोनी की कप्तानी में सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया के हाथों हारकर बाहर हो गई थी। इसके बाद कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया 2019 वर्ल्ड कप में भी सेमीफाइनल से आगे नहीं जा सकी।

श्रीसंत ने शेयरचैट आडियो चैटरूम में कहा, “अगर मैं कोहली की कप्तानी में टीम का हिस्सा होता तो, भारतीय टीम 2015, 2019 और 2021 का वर्ल्ड कप जीत जाती। श्रीसंत ने लगातार यॉर्कर गेंदबाजी करने की कला के बारे में भी बात की और खुलासा किया कि उनके कोच ने उन्हें टेनिस बॉल से यॉर्कर फेंकना सिखाया।

उन्होंने कहा, “खेलते समय विजुलाइज करना महत्वपूर्ण है और छोटे एरिया में गेंदबाजी से कोई फर्क नहीं पड़ता। मेरे कोच ने मुझे टेनिस गेंदों से यॉर्कर फेंकना सिखाया। अगर आप बुमराह से पूछेंगे तो वह कहेगा कि यह आसान भी है।”

साल 2006 में श्रीलंका के खिलाफ वनडे से इंटरनेशनल डेब्यू करने वाले श्रीसंत ने इसी साल क्रिकेट को अलविदा कह दिया था। श्रीसंत का क्रिकेटर करियर उतार-चढ़ाव भरा रहा। श्रीसंत जब अपने करियर में चरम पर थे तो IPL में स्पॉट फिक्सिंग के मामलें में BCCI ने उन पर आजीवन बैन लगा दिया था। हालांकि बाद में उनसे ये बैन हटा लिया गया जिसके बाद वह केरल की रणजी टीम की ओर से खेलते नजर आए थे। श्रीसंत ने भारत के लिए 27 टेस्ट, 53 वनडे और 10 T20I में क्रमश: 87, 75 और 7 विकेट अपने नाम किए थे।