भारत को पहला वर्ल्ड कप खिताब जिताने वाले पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव (Kapil Dev) भारतीय टीम के मौजूदा मुख्य कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) के काम से बेहद प्रभावित और खुश हैं. उन्होंने कहा कि जब शास्त्री टीम के साथ मिलकर इतना बेहतर काम कर रहे हैं, तो उन्हें इस पद से हटाने की क्या जरूरत है. कपिल उन अटकलों को जवाब दे रहे थे, जिनमें ऐसा माना जा रहा है कि टी20 वर्ल्ड कप खत्म होने के बाद शास्त्री का करार खत्म हो रहा है और बीसीसीआई उनका कार्यकाल आगे बढ़ाना नहीं चाहता है.

महान ऑलराउंडर कपिल देव ने कहा कि जब वह अच्छे नतीजे दे रहे हैं तो उन्हें मुख्य कोच के पद से हटाने की कोई वजह नहीं है. हालांकि शास्त्री का आगे कोच बनना इस बात पर भी निर्भर करता है कि वह इस पद के लिए फिर से आवेदन करना चाहते हैं या नहीं.

ऐसी अटकलें हैं कि बीसीसीआई राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (NCA) के मौजूदा प्रमुख राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) को मुख्य कोच बना सकता है, जो इस समय सीमित ओवरों की सीरीज के लिए टीम के साथ श्रीलंका दौरे पर हैं. कपिल ने ‘एबीपी न्यूज’ से कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि इस बारे में अभी बात करने की जरूरत है. देखते हैं कि श्रीलंका में प्रदर्शन कैसा रहता है.’

उन्होंने कहा, ‘नए काोच को तैयार करने में कोई बुराई नहीं है. लेकिन अगर रवि शास्त्री अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं तो उन्हें हटाने की भी कोई वजह नहीं है. इससे कोचों और खिलाड़ियों पर अनावश्यक दबाव बनता है.’ शास्त्री के कोच रहते भारत ने ऑस्ट्रेलिया में दो बार टेस्ट सीरीज जीती. टीम 2019 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल और वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंची जहां उसे न्यूजीलैंड ने हराया.

विराट कोहली की अगुवाई में भारतीय टीम इंग्लैंड में पांच टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी, जबकि शिखर धवन की कप्तानी में टीम श्रीलंका में सीमित ओवरों की सीरीज खेलेगी. भारतीय टीम द्वारा एक साथ दो अलग-अलग देशों का दौरा करने पर 62 वर्षीय कपिल ने कहा, ‘भारत के पास खिलाड़ियों का बड़ा पूल है. अगर खिलाड़ियों को मौका मिलता है और भारत इंग्लैंड और श्रीलंका में दो अलग अलग टीमें उतारकर जीत सकता है तो इससे बेहतर क्या होगा.’

(इनपुट: भाषा)