‘I’m No Slouch in test Cricket’: R Ashwin on ODI Exclusion

भारतीय क्रिकेट टीम के लिए टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले रविचंद्रन अश्विन वनडे क्रिकेट में भी टीम का हिस्सा होना चाहते है। जनवरी 2017 में अश्विन ने भारत की तरफ से आखिरी वनडे मैच खेला था। कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की जोड़ी इन दिनों वनडे क्रिकेट में भारत की तरफ से खेलती है।

अश्विन ने शनिवार को कहा कि वनडे क्रिकेट को लेकर उनके बारे में एक राय बन गई है लेकिन वह इस फॉर्मेट के लिए उपयुक्त हैं। अश्विन से पहले तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने भी कहा था कि भारतीय क्रिकेट में ऐसी राय बन गई है कि वह टेस्ट गेंदबाज है जिससे वनडे में उन्हें मौका नहीं मिल रहा है।

पढ़ें:- ‘टेस्‍ट गेंदबाज का ठप्पा लगने से वनडे में नहीं मिल रहा मौका’

अश्विन को 2017 के वेस्टइंडीज दौरे के बाद वनडे टीम में जगह नहीं मिली है क्योंकि टीम प्रबंध को लगता है कि कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल जैसे कलाई के स्पिनर बेहतर विकल्प है।

अश्विन से जब एकदिवसीय प्रारूप के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘ मुझे नहीं पता, यह एक राय बन गई है। मैं इसके लिए उपयुक्त हूं। सफेद गेंद (एकदिवसीय) के प्रारूप में मेरा रिकॉर्ड उतना बुरा नहीं है। यह सिर्फ सोच की बात है कि आधुनिक दौर के क्रिकेट में कलाई के स्पिनर बेहतर हैं इसलिए मैं बाहर हूं। ’’

अश्विन ने याद दिलाया की उन्होंने 30 जून 2017 को वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए अपने आखिरी वनडे में 28 रन देकर तीन विकेट लिए थे। उन्होंने कहा, ‘‘ मैंने अपने अंतिम वनडे में 28 रन देकर तीन विकेट लिए थे। मैं जब भी अपने करियर का देखूंगा तो यह कहूंगा कि मैं अपने प्रदर्शन के कारण नहीं बल्कि टीम की जरूरत के कारण बाहर किया गया। ’’