कोलकाता के ईडन्‍स गार्डन पर जब टीम इंडिया मैदान पर उतरेगी तो यह मेजबान टीम के साथ-साथ मेहमान बांग्‍लादेश का भी पहला ही डे-नाइट टेस्‍ट मैच होगा। पिंक बॉल से होने वाले इस मैच को लेकर दोनों टीमों के खिलाड़ियों की तरफ से तरह-तरह के बयान सामने आ रहे हैं। इस मामले में अब बांग्‍लादेश के स्पिन गेंदबाजी कोच डेनियल विटोरी ने भी प्रतितिक्रया दी है।

पढ़ें:- BBL: पंजाब टीम से बाहर किए गए डेविड मिलर को बिग बैश लीग से मिला ऑफर

डेनियल विटोरी को इस मैच को लेकर एक डर सता रहा है। मेहमान टीम के कोच कोलकाता में जल्‍द सूर्यास्‍त होने से चिंतित हैं। विटारी ने कहा जल्‍द सूर्यास्‍त होने के कारण बांग्‍लादेशी बल्‍लेबाजों के सामने चुनौती बेहद कड़ी होने वाली है।बांग्लादेश ने साल 2013 में दिन रात का एक चार दिवसीय मैच खेला है, लेकिन मौजूदा समय में उनकी टीम का कोई भी खिलाड़ी उस टीम का हिस्‍सा नहीं था।

डेनियल विटोरी ने कहा, ” पिंक गेंद दिन के समय सामान्य है लेकिन चुनौती यह होगी कि फ्लड लाइट में कितना खेल होता है। कोलकाता में सूर्यास्त जल्दी होता है , शायद 4।30 बजे। ऐसी स्थिति में पिंक गेंद को खेलना चुनौतीपूर्ण होगा।”

पढ़ें:- लसिथ मलिंगा ने टी20 क्रिकेट से संन्‍यास पर लिया यू-टर्न, कहा- मैं अभी

“मैने कभी अपने समय में डे-नाइट टेस्ट खेला नहीं है लेकिन टीवी पर जरूर देखा है। हमेशा ही ढलते सूरज की रोशनी में खेलना मुश्किल होता है। यह मैच का एक ऐसा समय होगा जब दोनों ही टीमें प्रयोग करेंगी। आखिरी डेढ़ घंटा काफी रोचक होगा।’’

न्‍यूजीलैंड की टीम के पूर्व कप्‍तान ने कहा, “सभी तेज गेंदबाज प्रतिभाशाली है। एसजी पिंक गेंद से पकड़ बनाना अलग होगा। अधिकांश को कूकाबूरा का अनुभव है। सभी इसे लेकर काफी उत्साहित हैं।”