इंग्लैंड के खिलाफ पुणे में खेली जा रही तीन मैचों की वनडे सीरीज (IND vs ENG ODI Series) का पहला मैच जीतने के बाद अब टीम इंडिया शुक्रवार को यह सीरीज अपने नाम करने के इरादे से मैदान पर उतरेगी. इस बीच भारतीय टीम को चोटिल श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) का विकल्प भी तलाशना है. उम्मीद की जा रही है कि असाधारण प्रतिभा के धनी सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) को मौका मिल सकता है.

अगर ऐसा होता है तो यह सूर्यकुमार के लिए वनडे क्रिकेट में डेब्यू का मौका होगा. उन्होंने हाल ही में इंग्लैंड के ही खिलाफ अपने टी20 इंटनरेशनल करियर की शानदार शुरुआत की है. इससे पहले मंगलवार को खेले गए पहले वनडे मैच में अय्यर को भारतीय टीम की फील्डिंग के दौरान कंधे में चोट लग गई थी. बाद में उन्हें दर्द के कारण मैदान से बाहर जाना पड़ा और स्कैन के बाद पता चला कि उनके कंधे की हड्डी खिसक गई है.

अय्यर के बाद सूर्यकुमार को उनके विकल्प के तौर पर देखा जा रहा है. कोरोना महामारी से पहले श्रेयस भारतीय वनडे टीम के सबसे अहम खिलाड़ियों में से एक थे लेकिन भारत की ‘बेंच स्ट्रेंथ’ इतनी मजबूत है कि अब पदार्पण करने जा रहा खिलाड़ी भी विश्व चैम्पियन टीम के लिए खतरनाक लग रहा है.

कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) समेत टीम प्रबंधन के सामने चयन की दुविधा होगी. रविंद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) तीन महीने से टीम से बाहर हैं लेकिन टेस्ट में अक्षर पटेल (Axar Patel) और वनडे में कृणाल पांड्या (Krunal Pandya) ने उनकी कमी महसूस नहीं होने दी. आईपीएल के कारण मशहूर हुए प्रसिद्ध कृष्णा (Prasidh Krishna) ने वनडे क्रिकेट में पदार्पण के साथ शानदार प्रदर्शन करके 4 विकेट चटकाए.

जडेजा और जसप्रीत बुमराह के लौटने पर कृणाल या कृष्णा में से एक को बाहर रहना होगा. भारत के लिए सबसे बड़ी राहत शिखर धवन (Shikhar Dhawan) का फॉर्म में लौटना रही है, जिन्होंने पहले वनडे में ही 98 रन बनाए. टी20 सीरीज से बाहर रहने के बाद उन पर अच्छे प्रदर्शन का काफी दबाव था.

रोहित शर्मा को पहले मैच में कोहनी में चोट लगी लेकिन उनके फिट होने की उम्मीद है. अगर टीम मैनेजमेंट रोहित को ब्रेक देने का फैसला करता है तो उस स्थिति में शुभमन गिल दूसरे मैच में धवन के साथ पारी का आगाज कर सकते हैं. ऐसे में राहुल मध्यक्रम में उतरेंगे । वैसे सूत्रों के अनुसार रोहित की चोट गंभीर नहीं है और वह खेलने को बेताब हैं.

चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने पहले मैच में 9 ओवर में 68 रन दिए, लेकिन वह लंबे समय बाद वापसी कर रहे थे. ऐसे में उन्हें दूसरे मैच में भी मौका दिया जा सकता है. भुवनेश्वर कुमार, कृष्णा और शार्दुल ठाकुर की तेज तिकड़ी ने 10 में से 9 विकेट लिए और वे इस लय को कायम रखना चाहेंगे. वैसे ठाकुर लगातार खेल रहे हैं और विविधता के लिए टी. नटराजन या मोहम्मद सिराज को उतारा जा सकता है.

दूसरी ओर इंग्लैंड की कोशिश यह मैच जीतकर सीरीज में बने रहने की होगी. कप्तान इयोन मोर्गन और बल्लेबाज सैम बिलिंग्स को पहले मैच में लगी चोट ने उसकी परेशानियां बढ़ा दी हैं. जॉनी बेयरस्टॉ और जैसन रॉय ने अच्छा प्रदर्शन किया था और उनसे इसके दोहराव की उम्मीद होगी. मध्यक्रम अपनी क्षमता के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर सका. बेन स्टोक्स, जोस बटलर और मोईन अली नाकाम रहे. इंग्लैंड को बड़ा स्कोर बनाना है तो इन तीनों को अच्छी पारी खेलनी होगी.

दूसरी ओर स्पिनर आदिल रशीद और मोईन अली भारतीय बल्लेबाजों को परेशान नहीं कर सके और दोनों को विकेट नहीं मिला. टॉम करन को अपने भाई सैम और मार्क वुड का तेज गेंदबाजी में साथ देना होगा. यह मैच दोपहर 1 बजकर 30 मिनट (भारतीयसमानुसार) से शुरू होगा.

इस सीरीज में दोनों टीमें:-

भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उप-कप्तान), शिखर धवन, शुभमन गिल, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पंड्या, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), केएल राहुल (विकेट कीपर), युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, क्रुणाल पंड्या, वाशिंगटन सुंदर, टी नटराजन, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद सिराज, प्रसिद्ध कृष्णा, शार्दुल ठाकुर में से।

इंग्लैंड: इयोन मोर्गन (कप्तान), मोइन अली, जॉनी बेयरस्टो, सैम बिलिंग्स, जोस बटलर, सैम कुरेन, टॉम कुरेन, लियाम लिविंगस्टोन, मैट पार्किंसन, आदिल राशिद, जैसन रॉय, बेन स्टोक्स, रीस टॉपले, मार्क वुड, जैक बॉल, क्रिस जॉर्डन, डाविड मलान.

इनपुट: भाषा