इंग्लैंड के युवा तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) को भारत के खिलाफ शुरू होने वाली आगामी टेस्ट सीरीज में खास माना जा रहा है. आर्चर भारत में पहली बार लाल गेंद से टेस्ट मैच खेलने आए हैं. हालांकि वह आईपीएल खेलने के लिए भारत आते रहे हैं. इसलिए भारतीय पिचों के स्वभाव को वह बखूबी समझते हैं. लेकिन इसके बाबजूद इस तेज गेंदबाज का मानना है कि टेस्ट क्रिकेट में IPL का अनुभव उनके काम नहीं आएगा.

भारत और इंग्लैंड (India vs England 1st Test at Chennai) की टीमें शुक्रवार से चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में 4 टेस्ट मैच की इस सीरीज की शुरुआत करेंगी. आर्चर श्रीलंका के खिलाफ हाल ही खत्म हुई टेस्ट सीरीज का हिस्सा नहीं थे. उन्हें बेन स्टोक्स और रोरी बर्न्स को उस दौरे के लिए आराम दिया गया था और ये तीनों खिलाड़ी अपनी टीम से पहले ही भारत पहुंच गए थे. तीनों ने यहां अपना क्वॉरंटीन पीरियड खत्म कर टीम से पहले ही अभ्यास भी शुरू कर दिया था.

आर्चर ने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘मैं कभी यहां टेस्ट क्रिकेट नहीं खेला हूं. आप वास्तव में इसकी तुलना नहीं कर सकते (भारत में टेस्ट और सीमित ओवरों की क्रिकेट खेलने की).’ उन्होंने अपनी बॉलिंग स्पेल को लेकर कहा कि यह टीम कॉम्बिनेशन पर निर्भर करेगा.

आर्चर ने कहा, ‘अगर हम तीन तेज गेंदबाजों के साथ खेलते हैं तो मुझे लगता है कि मुझे ज्यादा लंबे स्पैल्स में गेंदबाजी नहीं करनी पड़ेगी. मुझे लगता है कि यह गेंदबाजों की क्वॉलिटी और समय पर निर्भर करेगा.’

इनपुट: IANS