IND vs ENG: It will take centuries to break the records made in Edgbaston Test
England Cricket

भारत जब एजबेस्टन टेस्ट में खेलने उतरा होगा तो उसने कल्पना भी नहीं की होगी कि 378 रनों का विशाल टारगेट देने के बावजूद वो मैच हारकर सीरीज गवां बैठेगा। इंग्लैंड ने भारत को इस मुकाबले में न केवल 7 विकेट पटखनी दी बल्कि मैच में पूरी एक रिकॉर्ड बुक ही लिख डाली।

इंग्लैंड ने 377 रनों का पीछा करते हुए क्रिकेट इतिहास का 8वां सबसे बड़ा सफल रन चेज अपने नाम कर लिया। साथ ही इंग्लैंड की भारत के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में ये 50वीं जीत रही। इंग्लैंड दुनिया की पहली ऐसी टीम बन गई है जिसने लगातार चार टेस्ट मैच 250 से ज्यादा का लक्ष्य हासिल करते हुए जीते हैं। इससे पहले मेजबान इंग्लिश टीम ने पिछले महीने न्यूजीलैंड के खिलाफ टारगेट चेज करते हुए 3-0 से सीरीज अपने नाम की थी।

दूसरी तरफ, भारत को बर्मिंघम के एजबेस्टन में खेले गए 8 मैचों में 7वीं हार का सामना करना पड़ा। भारत की इस हार का सबसे बड़ा कारण बनी जॉनी बेयरस्टो और जो रूट की नाबाद 269 रनों की रिकॉर्ड साझेदारी। भारत के खिलाफ ये इंग्लैंड की चौथे विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी है। इससे पहले ये रिकॉर्ड वैली हैमंड और स्टेन वर्थिंगटन के नाम था जिन्होंने 1936 में 266 रनों की साझेदारी की थी।

रूट और बेयरस्टो के बीच 266 रनों की पार्टवरशिप टेस्ट मैच की चौथी पारी में इंग्लैंड की ओर से चौथे विकेट के लिए हुई अब तक की सबसे बड़ी साझेदारी है। इससे पहले ये उपलब्धि वैली हैमंड और एडी पेंटर के नाम थी जिन्होंने 1939 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 164 रनों की साझेदारी की थी।

इंग्लैंड ने 3 विकेट खोकर 378 रनों के लक्ष्य को आसानी से हासिल कर लिया जो टेस्ट क्रिकेट में अब उसका सबसे बड़ा सफल रन चेज का रिकॉर्ड है। इससे पहले ये रिकॉर्ड 359 रनों का था जो उसने 2019 एशेज में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हासिल किया था। भारत के खिलाफ ये अब तक का सबसे सफल रन चेज भी है।

टेस्ट में इंग्लैंड द्वारा सबसे बड़े सफल रन चेज

  • 378 बनाम भारत, एजबेस्टन 2022
  • 359 बनाम ऑस्ट्रेलिया, लीड्स 2019
  • 332 बनाम ऑस्ट्रेलिया, मेलबर्न 1928/29
  • 315 बनाम ऑस्ट्रेलिया, लीड्स 2001

इंग्लैंड ने अब अपने नाम घरेलू सरजमीं पर दूसरा सबसे बड़ा टारगेट चेज करने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। इस मामलें में टॉप पर ऑस्ट्रेलिया है जिसने 1948 में मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ 404 रनों का टारगेट सफलतापूर्वक हासिल किया था।

भारत के खिलाफ सबसे बड़े सफल रन चेज

  • 378 इंग्लैंड, एजबेस्टन 2022
  • 339 ऑस्ट्रेलिया, पर्थ 1977
  • 276 वेस्टइंडीज, दिल्ली 1987
  • 240 साउथ अफ्रीका, जोहान्सबर्ग 2022

अब बात इस मैच के हीरो जो रूट की, जिन्होंने दूसरी पारी में नाबाद 142 रनों की पारी खेली। रूट इस पारी की मदद से 5 मैचों की सीरीज में सबसे ज्यादा 737 रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे और उन्होंने प्लेयर ऑफ द सीरीज का खिताब अपने नाम किया। इस दौरान उनके बल्ले से 4 शतक और 1 अर्धशतक निकला। इसके साथ ही पूर्व इंग्लिश कप्तान इंग्लैंड-भारत टेस्ट सीरीज में दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए। इस मामलें में ग्राहम गूच पहले नंबर पर है जिन्होंने भारत के खिलाफ 1990 की टेस्ट सीरीज में 752 रन बनाए थे।

IND vs ENG टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा रन

  • 752 ग्राहम गूच,1990
  • 737 जो रूट, 2022
  • 655 विराट कोहली, 2016-17
  • 615 माइकल वॉन, 2002
  • 602 राहुल द्रविड़, 2002

रूट भारत के खिलाफ सबसे ज्यादा 9 टेस्ट शतक जड़ने वाले बल्लेबाज भी बन गए हैं। उन्होंने रिकी पोंटिंग को पीछे छोड़ते हुए ये उपलब्धि अपने नाम की।

भारत के खिलाफ सर्वाधिक टेस्ट शतक

9 – जो रूट

8 – रिकी पोंटिंग

8 – विव रिचर्ड्स

8 – स्टीव स्मिथ

8 – गैरी सोबर्स

रूट ने जहां चौथी पारी में शतक जड़ा तो वहीं, बेयरस्टो ने एजबेस्टन टेस्ट की दोनों पारियों में शतक जड़ने का अनोखा कारनामा कर दिखाया। टेस्ट में ऐसा करने वाले वह 12वें इंग्लिश खिलाड़ी हैं।