लंबे समय से भारतीय टीम में अपना जलवा दिखाने के लिए बेकरार सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) आखिरकार गुरुवार को इंग्लैंड के खिलाफ (IND vs ENG T20i Series) मौका मिल गया. आज कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने उन्हें ईशान किशन की जगह मौका दिया था और रोहित शर्मा के बाद वह नंबर 3 पर बल्लेबाजी के लिए उतरे. सूर्या ने अपनी पारी की पहली ही गेंद पर लाजवाब छक्का जड़कर अपने इंटरनेशनल रनों का खाता खोला.

इसके बाद उन्होंने 28 बॉल में शानदार फिफ्टी भी जमाई. अपनी पहली ही पारी में वह 57 रन बनाकर आउट हुए. अब वह अपनी पहली टी20 इंटरनेशनल पारी में सर्वाधिक रन बनाने के मामले में दूसरे भारतीय बल्लेबाज हैं.

इससे पहले रविवार को उनके साथ डेब्यू करने वाले ईशान किशन (Ishan Kishan) ने यह मुकाम हासिल किया था. लेकिन अब सूर्या ने उन्हें पीछे धकेलकर तीसरे स्थान पर खिसका दिया है. दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने 31 गेंदों की अपनी पारी में कुल 57 रन बनाए, जिसमें 6 चौके और 3 छक्के शामिल थे. इस फेहरिस्त में अजिंक्य रहाणे का नाम सबसे ऊपर है. उन्होंने साल 2011 में अपने करियर की पहली टी20 इंटरनेशनल पारी में मैनचेस्टर में 61 रन जोड़े थे.

अपनी डेब्यू पारी में फिफ्टी जमाने वाले सूर्या कुछ छठे भारतीय बल्लेबाज हैं. उनसे पहले रहाणे, ईशान किशन, रोहित शर्मा और रॉबिन उथप्पा यह मुकाम हासिल कर चुके हैं. हालांकि सूर्या के करियर का दूसरा टी20 इंटरनेशनल मैच है, लेकिन उन्हें अपने डेब्यू मैच में बैटिंग का मौका नहीं मिल पाया था. लेकिन आज वह अलग ही मूड में दिख रहे थे.

उन्होंने अपनी पारी गेंद की मेरिट के हिसाब से रन बनाए. हालांकि उनका विकेट थोड़ा विवादास्पद रहा. पारी के 14वें ओवर में उन्होंने सैम करन की एक गेंद को फाइन लेग की और छक्के के मकसद से घुमाया था. लेकिन वहां डेविड मलान ने उनका कैच लपक लिया.

हालांकि यह कैच संदिग्ध था और लग रहा था जैसे गेंद जमीन को छू गई हो. इसलिए मैदान पर खड़े अंपायर ने इस निर्णय को थर्ड अंपायर के पास रेफर कर दिया. हालांकि सॉफ्ट सिग्नल में उन्होंने आउट दिया. टीवी रीप्ले में देखकर थर्ड ऐसा लग रहा था कि शायद मलान के हाथ से यह गेंद छिटककर जमीन को छुई है लेकिन इसका कोई प्रमाणिक प्रूफ अंपायर के पास नहीं था. इसलिए उन्हें आउट होकर लौटना पड़ा.