पूर्व बल्‍लेबाज सुनील गावस्‍कर का मानना है कि केएल राहुल को ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ विकेटकीपिंग की जिम्‍मेदारी दिए जाने के कारण रिषभ पंत को भारतीय टीम से नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए.

रिषभ पंत तीन मैचों की वनडे सीरीज के पहले मुकाबले के दौरान सिर में चोट लगने के कारण बाहर हो गए थे. इसके बाद केएल राहुल को विकेटकीपिंग की जिम्‍मेदारी दी गई. राहुल अपने घरेलू टीम कर्नाटक के लिए भी विकेटकीपिंग की जिम्‍मेदारी संभालते आ रहे हैं.

पढ़ें:- न्‍यूजीलैंड दौरे से पहले भारत को लगा बड़ा झटका, चोटिल शिखर धवन हुए बाहर

न्‍यूज चैनल आज तक के प्रोग्राम के दौरान सुनील गावस्‍कर ने कहा, “सीमित ओवरों के क्रिकेट में मैं रिषभ पंत का बचाव करुंगा. अगर आपकों नंबर-6 पर एक बल्‍लेबाज की जरूरत है तो रिषभ भारत के लिए सही भूमिका निभा सकते हैं.”

चोटिल रिषभ पंत इस वक्‍त बेंगलुरू स्थिति राष्‍ट्रीय क्रिकेट अकादमी में रिहैब की प्रक्रिया से गुजर रहे हैं. केएल राहुल इस वक्‍त शानदार फॉर्म में हैं. वो सलामी बल्‍लेबाज के साथ-साथ नंबर-4 पर भारत के लिए अहम भूमिका निभा चुके हैं. पंत की गैर मौजूदगी में उन्‍हें विकेटकीपिंग के साथ-साथ नंबर-5 पर बल्‍लेबाजी का मौका मिला.

सुनील गावस्‍कर ने कहा, “रिषभ पंत एक बाएं हाथ का बल्‍लेबाज है. रिषभ के अलावा टीम ने केवल शिखर धवन ही इन-फॉर्म बाएं हाथ के बल्‍लेबाज हैं. धवन के साथ-साथ अगर हमारे पास एक अन्‍य बाएं हाथ का बल्‍लेबाज टीम का का हिस्‍सा बनता है तो यह टीम के लिए काफी फायदेमंद रहेगा.”

पढ़ें:- इस भारतीय क्रिकेटर से ज्यादा चर्चे में रहती हैं इनकी पत्नी, भारत की सबसे हॉट एंकर जो ठहरीं!

हाल ही में कप्‍तान विराट कोहली ने केएल राहुल की बतौर विकेटकीपर बल्‍लेबाज तारीफ करते हुए कहा था, “राहुल ने हमें वो संतुलन प्रदान किया है जिसकी हमें सख्‍त जरूरत थी. अगर वो नंबर-5 पर खेलने के साथ-साथ विकेटकीपर की भूमिका भी निभा सकता है तो यह टीम के लिए काफी अच्‍छा रहेगा.”