एंटीगा में खेले जा रहे सीरीज के पहले टेस्‍ट मैच के दौरान दूसरा सेशन काफी हद तक मेजबान टीम के नाम रहा। पहली पारी के आधार पर 75 रन से पिछड़ने के बाद वेस्‍टइंडीज ने दूसरे सेशन में 98 रन देकर भारत के टॉप तीन बल्‍लेबाजों के विकेट निकाले।

पढ़ें:- एंटीगा टेस्‍ट के तीसरे दिन काली पट्टी बांधकर उतरी टीम इंडिया, ये है वजह

मयंक अग्रवाल, केएल राहुल, चेतेश्‍वर पुजारा काफी गेंदों का सामना करने के बावजूद बड़ी पारी नहीं खेल पाए। लंच तक भारत ने बिना विकेट गंवाए सात ओवरों में 14 रन बना लिए थे। जिसके बाद 14वें ओवर में रोस्‍टन चेज ने मयंक अग्रवाल को एलबीडब्‍ल्‍यू आउट किया। मयंक ने 43 गेंद पर 16 रन की पारी खेली। गेंद पैड पर लगने के बाद अंपायर ने उंगली उठा दी। पहली नजर में मयंक अग्रवाल आउट लग रहे थे। मयंक ने डीआरएस लेने के संबंध में केएल राहुल से भी सलाह ली। राहुल ने उन्‍हें ऐसा नहीं करने को कहा। हालांकि बाद में पता चला कि गेंद स्‍टंप को बिना छूए निकल रही थी।

पढ़ें:- KPL 2019: कृष्‍णप्‍पा गौतम 39 गेंद पर जड़ा शतक, साथ ही मैच में झटके 8 विकेट

30 रन पर भारत ने अपना पहला विकेट गंवाया था। जिसके बाद राहुल और चेतेश्‍वर पुजारा के बीच 43 रन की साझेदारी बनी। दोनों स्‍कोर को 73 रन तक लेकर पहुंचे। इस साझेदारी को रोस्‍टन चेज ने ही तोड़ा। बेहद लापरवाही भरे तरीके से स्‍वीप शॉट खेलने के प्रयास में वो बोल्‍ड हो गए। इसके बाद जल्‍द ही चेतेश्‍वर पुजारा भी केमार रोच की गेंद पर बोल्‍ड हो गए। दूसरे सेशन में भारत ने 84 रन बनाए।