भारतीय टीम के पूर्व कप्‍तान और मौजूदा समय में बीसीसीआई के चेयरमैन सौरव गांगुली का मानना है कि रवींद्र जडेजा का मजबूत ऑलराउंडर के तौर पर उभरना टीम के लिए नई ताकत बन गई है.

कटक वनडे में 316 रनों के लक्ष्‍य का पीछा करने के दौरान भारत की मजबूत शुरुआत के बावजूद अंतिम समय में मैच फंसता नजर आया. जडेजा ने पहले कप्‍तान विराट कोहली 85(81) के साथ मिलकर 58 रन की साझेदारी बनाई. बाद में उन्‍होंने शार्दुल ठाकुर 17(6) के साथ मिलकर 30 रन की नाबाद साझेदारी बनाकर भारत की जीत सुनिश्चित की.

जडेजा ने मैच में 31 गेंद पर 39 रन जोड़े. जडेजा वनडे क्रिकेट में कुल 11 अर्धशतक बना चुके हैं. गांगुली ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘ एक और जीत. दबाव के क्षण में अच्छी बल्लेबाजी के लिए बधाई. बल्ले से जडेजा के प्रदर्शन में सुधार काफी अहम है.’’

जड़ेजा को लेकर गांगुली की संतुष्टि समझी जा सकती है क्योंकि करियर की शुरूआत में उन पर आखिरी ओवरों में बड़े शॉट खेलने में नाकाम करने का आरोप लगते रहा है.

पिछले कुछ वर्षों में हालांकि उनमें बदलाव आया है और उन्होंने वनडे में 2000 से ज्यादा (2,188) रन बनाये है जबकि टेस्ट में उनके बल्ले से 1,844 रन आये है.