11 दिसंबर को टी20 सीरीज खत्‍म होने के तुरंत बाद भारतीय टीम को वेस्‍टइंडीज के खिलाफ 15 तारीख से तीन मैचों की वनडे सीरीज में उतरना है. शिखर धवन वनडे टीम के स्‍क्‍वाड का हिस्‍सा हैं, हालांकि वो चोट से पूरी तरह उबर नहीं पाए हैं. ऐसे में टी20 सीरीज की तर्ज पर वनडे में भी धवन का विकल्‍प भारतीय टीम में शामिल किया जाना लगभग तय है.

भारतीय टीम में पहले से ही वैकल्पिक सलामी बल्‍लेबाज के तौर पर केएल राहुल खेल रहे हैं. रोहित शर्मा और शिवर धवन में से किसी एक के भी चोटिल होने व आराम लेने की स्थिति में राहुल भारत के लिए ओपन करते हैं.

पढ़ें:- रवि शास्‍त्री ने खोला राज, बताया धोनी कब तक करेंगे टीम इंडिया में वापसी

राहुल के प्‍लेइंग इलेवन में शामिल होने के बाद 15 सदस्‍यीय स्‍क्‍वाड में वैकल्पिक सलामी बल्‍लेबाजी की जगह खाली है. ऐसे में भारतीय टीम मैनेजमेंट के लिए शुभमन गिल, मयंक अग्रवाल या फिर संजू सेमसन में से किसी एक को शामिल कर सकता है.

1. संजू सेमसन: वेस्‍टइंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज में शिखर धवन के विकल्‍प के रूप में संजू सेमसन को ही स्‍क्‍वाड में शामिल किया गया है. सेमसन मध्‍यक्रम के साथ-साथ बतौर सलामी बल्‍लेबाज भी खेल सकते हैं. रिषभ पंत की खराब विकेटकीपिंग और बल्‍लेबाजी में जल्‍दबाजी भरे शॉट खेलने की आदतों को देखते हुए संजू सेमसन को उनके विकल्‍प के रूप में भी देखा जाता रहा है. ऐसे में इस बात की संभावना प्रबल है कि सेमसन को ही वनडे में वैकल्पिक सलामी बल्‍लेबाज के रूप में लिया जाए.

2, पृथ्‍वी शॉ: पिछले साल वेस्‍टइंडीज के भारत दौरे के दौरान ही टेस्‍ट क्रिकेट से राष्‍ट्रीय टीम में डेब्‍यू करने वाले पृथ्‍वी शॉ पर डोपिंग मामले में सजा अब खत्‍म हो गई है। लौटने के बाद घरेलू क्रिकेट में अपने पहले ही मुकाबले में पृथ्‍वी शॉ ने अर्धशतक जड़ा। सोमवार से शुरू हुई रणजी ट्रॉफी प्रतियोगिता में पहली ही दिन पृथ्‍वी ने मुंबई के लिए अर्धशतक जड़ा है। ऐसे में टीम मैनेजमेंट पृथ्‍वी पर भी दांव खेल सकता है।

पढ़ें:- गैरी कर्स्‍टन का बड़ा बयान, बोले- साउथ अफ्रीका क्रिकेट के बुरे दौर में मैं…

3. मयंक अग्रवाल: टेस्‍ट टीम में बतौर सलामी बल्‍लेबाज शानदार प्रदर्शन करने वाले मयंक अग्रवाल ने अबतक वनडे में डेब्‍यू नहीं किया है. बांग्‍लादेश के खिलाफ अपने दोहरे शतक (243) के दौरान अग्रवाल ने अंत में बेहद तेजी गति से रन बनाकर सीमित ओवरों के क्रिकेट में भी मजबूत दावेदारी पेश की थी. ऐसे में उन्‍हें मौका दिया जा सकता है.

4. शुभमन गिल: शुभमन गिल भी सलामी बल्‍लेबाज के तौर पर अपनी मजबूत दावेदरी पेश कर रहे हैं. घरेलू क्रिकेट में उनका प्रदर्शन काफी लाजवाब रहा है. उन्‍हें साल की शुरुआत में न्‍यूजीलैंड दौरे पर कप्‍तान विराट कोहली द्वारा सीरीज के बीच में आराम लिए जाने के बाद तीसरे नंबर पर खेलने का मौका मिला था. गिल अपने दोनों ही मैचों में फ्लॉप रहे थे.