ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) का कहना है कि भारत के खिलाफ 27 नवंबर से शुरू होने वाली सीमित ओवर फॉर्मेट सीरीज पर सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की गैरमौजूदगी का असर पड़ेगा। बता दें कि शर्मा को हैमस्ट्रिंग इंजरी की वजह से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे और टी20 स्क्वाड में जगह नहीं मिली है।

मैक्सवेल भी इस बात को मानते हैं रोहित जैसे खिलाड़ी के ना रहने से सीरीज पर प्रभाव पड़ेगा लेकिन भारत के पास रोहित के विकल्प हैं और इसमें केएल राहुल (KL Rahul) एक बड़ा नाम है।

शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान मैक्सवेल ने रोहित के बारे में कहा, “वो क्लास बल्लेबाज हैं। सलामी बल्लेबाज के तौर पर उन्होंने निरंतर अच्छा किया है। उनके नाम कुछ दोहरे शतक भी है। उनका टीम में न होना विपक्षी टीम के लिए अच्छी बात है, लेकिन भारत के पास बैकअप है जो उनकी भरपाई कर सकते हैं। राहुल एक नाम हैं। उन्होंने बीते आईपीएल में शानदार प्रदर्शन किया है। वो शानदार फॉर्म में हैं और सलामी बल्लेबाजी भी करते हैं। वो बेहतरीन बल्लेबाज हैं।”

मैक्सवेल आईपीएल के 13वें सीजन में राहुल की कप्तानी में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेले थे जहां उनके साथ मयंक अग्रवाल और मोहम्मद शमी भी थे। मैक्सवेल ने इन तीनों भारतीय खिलाड़ियों की काफी तारीफ की। मैक्सवेल जब पूछा गया कि इन तीनों में से कौन सा खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया में अच्छा प्रदर्शन कर सकता है तो उन्होंने तेज गेंदबाज शमी का नाम लिया।

उन्होंने कहा, “मैंने शमी को काफी करीब से देखा है। शमी के साथ मैं इस आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेला और उससे पहले दिल्ली में भी उनके साथ खेल चुका हूं। वो गेंद को स्विंग कराते हैं। उनकी नई गेंद से जो योग्यता है वो उन्हें खतरनाक बनाती है।”

राहुल और मयंक के बारे में मैक्सवेल ने कहा, “मैं जितने खिलाड़ियों से मिला हूं उनमें ये दोनों शानदार हैं। ये दोनों अच्छे इंसान भी हैं और अच्छे खिलाड़ी भी हैं। उनमें बहुत कम कमियां, लेकिन वनडे क्रिकेट अलग होती है। हमारे पास जो गेंदबाजी अटैक है उससे हम उन्हें दबाव में ला सकते है। यहां पिचों में भी उछाल ज्यादा रहती है। फिर भी ये दोनों बेहतरीन बल्लेबाज हैं।”

मैक्सवेल ने कहा कि पंजाब में शमी और राहुल के साथ खेलने से उन्हें आगामी सीरीज में थोड़ी बहुत मदद जरूर मिलेगी।उन्होंने कहा, “शमी का सामना करते हुए मुझे मदद मिल सकती है, लेकिन गेंदबाजी करते हुए राहुल के सामने ज्यादा कुछ मदद नहीं मिलेगी। मैं मिडऑफ पर खड़े होकर शमी से बात करता था कि वो किस तरह से बल्लेबाजों को देख रहे हैं, क्या सोच रहे हैं। इसलिए मुझे पता है कि वो कैसे सोचते हैं। इससे मुझे मदद मिलेगी।”

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सीरीज हमेशा से रोमांचक और बेहद प्रतिस्पर्धी होती है। मैक्सवेल ने कहा कि उनकी टीम में भारत को टक्कर देने का माद्दा है और इसलिए इस बार भी सीरीज काफी रोमांचक रहेगी। उन्होंने कहा, “हम भारत के खिलाफ बेहतर करने की तैयारी कर रहे हैं। उनकी बल्लेबाजी विश्व स्तरीय है, उनकी गेंदबाजी भी। हम हर मामले में उनकी बराबरी कर सकते हैं इसलिए ये रोमांचक सीरीज होगी।”