india beat Bangladesh in women asia cup 2022 by 59 runs
भारत ने एशिया कप 2022 में बांग्लादेश को हराया

सिलहट: सलामी बल्लेबाजी शेफाली वर्मा के बल्ले और गेंद से कमाल के दम पर भारत ने महिला एशिया कप टी20 टूर्नामेंट में शनिवार को यहां मेजबान बांग्लादेश को 59 रन से हराकर सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की की.

शेफाली 44 गेंद में 55 रन की पारी के बाद चार ओवर में 10 रन पर दो विकेट लिये. उन्होंने हरमनप्रीत कौर को विश्राम दिए जाने के कारण कप्तानी का जिम्मा संभाल रही स्मृति मंधाना (38 गेंद में 47 रन) के साथ पहले विकेट के लिए 12 ओवर में 96 रन की शानदार साझेदारी की. शानदार लय में चल रही जेमिमा रोड्रिग्स ने 24 गेंद में नाबाद 35 रन की पारी खेलकर टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचाया.

भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में पांच विकेट पर 159 रन बनाने के बाद बांग्लादेश की पारी को सात विकेट पर 100 रन पर रोक दिया. प्लेयर ऑफ द मैच शेफाली के अलावा भारत के लिए दीप्ति शर्मा ने दो जबकि रेणुका सिंह और स्नेह राणा ने एक – एक विकेट लिये.

इस जीत के साथ भारत ने लीग चरण में एक मैच शेष रहते सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली. भारत के नाम पांच मैचों में चार जीत से आठ अंक हो गये हैं. पाकिस्तान के खिलाफ पिछले मैच में हार का सामना करने वाली भारतीय टीम ने इस मुकाबले के शुरुआत से आक्रामक रूख अपनाया और पूरे मैच के दौरान अपनी पकड़ मजबूत रखी.

बांग्लादेश ने अपने टी20 अंतरराष्ट्रीय करियर में कभी 142 रन से अधिक का लक्ष्य हासिल नहीं किया है. टीम के बल्लेबाजों ने इस मैच में तेजी से रन बनाने की कोशिश की लेकिन भारतीय गेंदबाजों की सटीक गेंदबाजी के सामने वे सहज नहीं दिखे.

पाकिस्तान के खिलाफ क्षेत्ररक्षण में बेहद खराब प्रदर्शन करने के बाद इस मैच में भारतीय खिलाड़ियों ने अपना स्तर ऊंचा किया जिससे बांग्लादेश के बल्लेबाजों को दौड़ कर रन चुराने के लिए संघर्ष करना पड़ा.

फरगाना हक (40 गेंद में 30 रन) और मुर्शीदा खातून (21 गेंद में 25 रन) ने बांग्लादेश को सधी हुई शुरुआत दिलाई लेकिन दोनों नौ ओवर में सिर्फ 45 रन ही जोड़ सके. इस साझेदारी के टूटने के बाद टीम लगातार अंतराल पर विकेट गंवाते रही.

इससे पहले, शेफाली ने दिखाया कि इस प्रारूप में उसे सबसे आक्रामक बल्लेबाजों में से एक क्यों माना जाता है . उन्होंने टी20 अंतरराष्ट्रीय प्रारूप में अपना चौथा अर्धशतक पूरा करने के दौरान पांच चौके और दो छक्के लगाए. शेफाली ने इस दौरान खेल के छोटे प्रारूप में 1000 रन भी पूरे किए. इस दौरान मंधाना ने भी कप्तानी पारी खेली. रन आउट होने से पहले उन्होंने छह शानदार चौके जड़े.

इन दोनों के आउट होने के बाद बांग्लादेश के गेंदबाजों को मैच में वापसी का मौका मिला लेकिन जेमिमा ने तेजी से रन बनाते हुए टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचाया. उन्होंने दीप्ति (पांच गेंद में 10 रन) के साथ 2.3 ओवर में 29 रन जोड़े.