© AFP
© AFP

भारत ने वॉन्डरर्स स्टेडियम में खेले गए तीसरे और आखिरी टेस्ट मैच के चौथे दिन शनिवार को मेजबान दक्षिण अफ्रीका को 63 रनों से हरा दिया। इस जीत के साथ ही भारतीय टीम ने इस मैदान पर अपने अपराजित क्रम को जारी रखा है और सीरीज में एक मैच जीतकर अपना सम्मान बचा लिया है। दक्षिण अफ्रीका हालांकि 2-1 से सीरीज अपने नाम करने में सफल रहा है। भारत ने चौथी पारी में दक्षिण अफ्रीका के सामने 241 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसे मेजबान टीम हासिल नहीं कर पाई और 73.2 ओवरों में 177 रनों पर ही ढेर हो गई।

द.अफ्रीका के सिर्फ तीन बल्लेबाज ही दहाई के आंकड़े तक पहुंच सके। डीन एल्गर ने सबसे ज्यादा नाबाद 86 रन बनाए। हाशिम अमला ने 52 रनों की पारी खेली। इन दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 119 रनों की साझेदारी की। वार्नोन फिलेंडर ने 10 रन बनाए। भारत के लिए मोहम्मद शमी ने पांच विकेट लिए। जसप्रीत बुमराह और ईशांत शर्मा को दो-दो सफलताएं मिली। भुवनेश्वर कुमार को एक विकेट मिला। भारत ने अपनी पहली पारी में 187 रन बनाए थे। वहीं दक्षिण अफ्रीका ने पहली पारी में 194 रन बनाते हुए सात रनों की बढ़त ले ली थी। भारत ने अपनी दूसरी पारी में 247 रन बनाते हुए मेजबान टीम के सामने चुनौतीपूर्ण लक्ष्य रखा था, जिसे वो हासिल नहीं कर पाई।

आईपीएल 2018-क्रुणाल पांड्या, जोफ्रा आर्चर की लगी करोड़ों की 'लॉटरी'
आईपीएल 2018-क्रुणाल पांड्या, जोफ्रा आर्चर की लगी करोड़ों की 'लॉटरी'

टीम इंडिया भले ही जोहान्सबर्ग टेस्ट में जीत हासिल की लेकिन वो सीरीज 1-2 से गंवा बैठी। सेंचुरियन और केपटाउन टेस्ट में उसे करारी हार झेलनी पड़ी थी जिसके चलते वो 25 साल का इतिहास नहीं बदल सकी। हालांकि दो हार के बाद जिस तरह टीम इंडिया ने वापसी की वो काबिलेतारीफ है। भुवनेश्वर कुमार को उनके शानदार खेल के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। भुवनेश्वर ने पहली पारी में 30 और दूसरी पारी में 33 रनों की पारी खेली। साथ ही उन्होंने मैच में कुल 5 विकेट लिए। 15 विकेट लेने वाले वेरनॉन फिलेंडर को मैन ऑफ द सीरीज चुना गया।