© IANS
© IANS

भारत और श्रीलंका के बीच दिल्ली टेस्ट के दूसरे दिन लंच के बाद श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने मैदान में खराब हवा का हवाला देते हुए मैच कई बार रोका। इस वजह से टीम इंडिया के बल्लेबाजों का ध्यान बंटा और कोहली- अश्विन के रूप में उन्होंने दो विकेट भी गंवाए। इन दोनों के आउट होने के बाद फिर से श्रीलंका के खिलाड़ियों ने वही कारण देते हुए मैच रुकवा दिया। श्रीलंका के खिलाड़ियों की इस हरकत से पहले ही विराट कोहली खासे खफा थे। उन्होंने तो मैदान में बल्लेबाजी करते हुए बल्ला भी फेंक दिया था। लेकिन जब उन्होंने इसे तीसरी बार होते हुए देखा तो उन्होंने पारी को घोषित करना ही मुनासिब समझा। शायद इसलिए भी क्योंकि वह बताना चाहते थे कि आप चाहे इस माहौल में गेंदबाजी करें या न करें लेकिन हम करेंगे।

टीम इंडिया ने अपनी पहली पारी 536/7 के स्कोर के साथ घोषित कर दी। उस समय साहा 9 और जडेजा 5 रन बनाकर क्रीज पर थे। भारत की ओर से विराट कोहली ने सबसे ज्यादा 243, मुरली विजय ने 155, और रोहित शर्मा ने 65 रन बनाए। श्रीलंका की ओर से लक्षन संदाकन ने सबसे ज्यादा 4, गमागे ने 2 और परेरा ने 1 विकेट झटका। कोहली ने लंच के थोड़ा पहले अपना छठवां दोहरा शतक जमाया। इस तरह से उन्होंने कप्तान के तौर पर ब्रायन लारा के 5 दोहरे शतकों के रिकॉर्ड को तोड़ डाला और खुद नंबर 1 बन बैठे।

दूसरे छोर से रोहित शर्मा ने कोहली का अच्छा साथ निभाया और लंच के तुरंत पहले आउट होने से पहले 102 गेंदों में 65 रनों की पारी खेली। रोहित ने इस दौरान 7 चौके और 2 छक्के लगाए। रोहित शर्मा के आउट होते ही लंच की घोषणा कर दी गई। रोहित को भी गमागे ने आउट किया। मैच में गमागे का ये तीसरा विकेट है। रोहित और कोहली ने पांचवें विकेट के लिए 135 रनों की साझेदारी निभाई। टीम इंडिया ने इस दौरान 4.24 के रन रेट से न बनाए हैं जो बेहतरीन है।

टेस्ट के पहले दिन का खेल पूरी तरह मेजबानों के पक्ष में गया। दिन के खेल की शुरुआत टॉस से हुई, कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। केएल राहुल के टीम से बाहर होने के बाद मुरली विजय और शिखर धवन ने पारी की शुरुआत की। हालांकि धवन ज्यादा देर कर क्रीज पर नहीं टिक पाए और 23 रन बनाकर दिलरुवान परेरा के ओवर में कैच आउट हो गए। तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए चेतेश्वर पुजारा भी सस्ते में पवेलियन लौट गए। लाहिरू गमागे ने उन्हें 23 के स्कोर पर कैच आउट करवाया। इसके बाद विराट कोहली ने विजय के साथ भारतीय पारी को संभाला। दोनों ने मिलकर 283 रनों की धमाकेदार साझेदारी बनाई और टीम इंडिया को मैच में मजबूत स्थिति में लाकर खड़ा कर दिया।

दोनों बल्लेबाजों ने अपने अपने शतक पूरे किए। 150 का आंकड़ा पार करने के बाद लग रहा था कि मुरली विजय आज एक दोहरा शतक लगाएंगे लेकिन वह 155 रन बनाकर लक्षण संदाकन का शिकार बने। विजय के पवेलियन लौटने के बाद उप कप्तान अजिंक्य रहाणे मैदान पर आए। पिछले काफी समय से उनके बल्ले से रन नहीं निकल रहे थे और आज भी वह फैंस की उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे। रहाणे केवल 1 रन बनाकर संदाकन की गेंद पर स्टंप आउट हो गए।