नजम सेठी ने भारत-पाकिस्तान के बीच क्रिकेट मैचों की उम्मीदों को खारिज कर दिया © AFP
नजम सेठी ने भारत-पाकिस्तान के बीच क्रिकेट मैचों की उम्मीदों को खारिज कर दिया © AFP

क्या अगले साल भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय श्रंखला खेली जाएगी?, ये एक ऐसा सवाल है जो हर क्रिकेट प्रेमी के जहन में उठता रहता है। लेकिन पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के कार्यकारी समिति के अध्यक्ष नजम सेठी का मानना है कि मौजूदा हालातों को देखते हुए अगले साल भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज की कोई गुंजाइश नहीं दिख रही है। सेठी ने कहा कि दोनों देशों के बीच जिस तरह के चिंताजनक हालात हैं उसे देखकर अगले साल दोनों देशों के बीच क्रिकेट की उम्मीद ना के बराबर ही है साथ ही उन्होंने कहा कि हालात को बदलने में अभी समय लगेगा।

सेठी ने कहा, ‘हम भारत के साथ मैच तभी खेलेंग जब भारत हमारे पसंद के किसी न्यूट्रल वेन्यु पर खेलने को तैयार होता है। एक बात मैं बिल्कुल साफ कर देना चाहता हूं कि भारत और पाकिस्तान के बीच जब भी क्रिकेट रिश्ते की शुरुआत होगी पाकिस्तान भारत की मेजबानी में कोई भी मैच नहीं खेलेगा।’ जब सेठी से पूछा गया कि क्या वह ये सोचते हैं कि भारत आईसीसी के ईवेंट में पाकिस्तान के साथ नहीं खेलेगा?, इसपर सेठी ने कहा कि मुझे ऐसा नहीं लगता कि भारत ऐसा करेगा क्योंकि आईसीसी के मैचों में जब भी भारत और पाकिस्तान की टीमें भिड़ती हैं तो उससे काफी मुनाफा होता है और दोनों को इससे आर्थिक रूप से फायदा होता है।  [Also Read: भारत बनाम इंग्लैंड, चौथा टेस्ट, फुल स्कोरकार्ड हिंदी में]

सेठी ने कहा, ‘देखिए अगर आईसीसी ईवेंट में अगर भारत-पाकिस्तान के बीच मैच नहीं होते तो इससे आईसीसी समेत सबको नुकसान उठाना पड़ेगा। इसिलिए मुझे मैं इस बात से बिल्कुल भी इत्तेफाक नहीं रखता कि भारत-पाकिस्तान आईसीसी ईवेंट में नहीं भिड़ेंगे जबकि दोनों देशों को आईसीसी की तरफ से पैसे मिलते हैं।’ साथ ही जब उनसे पूछा गया कि क्या एशिया क्रिकेट काउंसिल की बैठक में क्या बीसीसीआई और पाकिस्तान के बीच कोई बातचीत होगी तो उन्होंने कहा कि हम बातचीत की पूरी कोशिश करेंगे लेकिन हालातों को देखते हुए दोनों देशों के बीच क्रिकेट बहाली का फिलहाल सवाल नहीं उठता।