कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल © AFP
कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल © AFP

भारतीय टीम के स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह का मानना है कि टीम इंडिया को बाकी बचे हुए मैचों में भी युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव को मौका देना चाहिए। हरभजन के मुताबिक भले ही टीम सीरीज जीत गई हो लेकिन टीम में बदलाव की कोई जरूरत नहीं है। आजतक से बातचीत में हरभजन ने युजवेंद्र और कुलदीप की जमकर तारीफ की और दोनों को मैच जिताऊ गेंदबाज बताया। हरभजन ने कहा, ”दोनों ही गेंदबाज विकेट लेने वाले हैं। दोनों गेंदों को फ्लाइट करने से घबराते नहीं हैं। बल्लेबाजों को उन्हें खेलने में तकलीफ होती है और यही दोनों की खासियत है।”

हरभजन ने आगे कहा, ”दोनों ही गेंदबाजों को बाकी बचे हुए मैच भी खिलाना चाहिए। दोनों युवा हैं, दोनों को खेलने का जितना मौका मिलेगा ये टीम और उनके लिए ही अच्छा होगा। अगर आप उन्हें रेस्ट देकर किसी और खिलाड़ी को मौका देते हैं तो इससे उनके आत्मविश्वास में कमी आएगी। जब आप अच्छा खेल रहे होते हैं तो जरूरत होती है कि आप ज्यादा से ज्यादा मैच खेलें। मेरे मुताबिक दोनों ही खिलाड़ियों को हर मैच खेलने चाहिए। फिर भले ही वो वनडे हो या फिर टी20 और भविष्य में टेस्ट भी।” ये भी पढ़ें: मारपीट मामला: छिन सकती है बेन स्टोक्स से उपकप्तानी, एशेज खेलने पर भी लटकी तलवार

आपको बता दें कि युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की जोड़ी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जमकर कहर ढा रही है। दोनों ने मिलकर पहले 3 वनडे में 13 विकेट लिए हैं। चहल की बात करें तो उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अब तक 3 वनडे मैचों में (3, 1, 1) विकेट लिए हैं। तो वहीं कुलदीप ने पहले 3 वनडे मैचों में (2, 3, 2) विकेट अपने नाम किए हैं। कुलदीप ने दूसरे मैच में हैट्रिक लेकर इतिहास भी रच दिया था। वहीं चहल इस सीरीज में ग्लेन मैक्सवेल के बनी बने हुए हैं।