India sleeping giants of women’s cricket, says Australia coach Matthew Mott
Mithali Raj and Harmanpreet Kaur

भारतीय महिला क्रिकेट ने पिछले कुछ सालों में शानदार लोकप्रियता हासिल की है। आईसीसी के बड़े टूर्नामेंट में टीम की प्रदर्शन लाजवाब रहा है। यही वजह है कि अब महिला क्रिकेट को लेकर भारत में काफी दीवानगी देखी जा रही है।

ऑस्ट्रेलियाई कोच मैथ्यू मोट का मानना है कि महिला क्रिकेट में भारत ‘सोया हुआ शेर ’ है क्योंकि उसके पास प्रतिभाओं की कमी नहीं है।
भारत के विश्व कप 2017 में उप विजेता रहने के बाद देश में महिला क्रिकेट को लेकर रूझान बढा है। भारत वेस्टइंडीज में नवंबर में हुए टी20 विश्व कप के सेमीफाइनल तक पहुंचा था।

पढ़ें:- “मैं खुद को एक महिला क्रिकेटर नहीं, सामान्य क्रिकेटर के रूप में देखती हूं”

मोट ने कहा ,‘‘भारत महिला क्रिकेट में सोया हुआ शेर है। भारत में क्रिकेट को लेकर दीवानगी है और बल्लेबाजी में तीन से चार विश्व स्तरीय खिलाड़ी है।’’

2017 महिला विश्व कप से पहले महिला क्रिकेट को भारत में उतनी ज्यादा लोकप्रियता हासिल नहीं थी। इस टूर्नामेंट में भारतीय टीम ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए फाइनल में जगह बनाई थी। फाइनल में मेजबान इंग्लैंड के हाथों एक बेहद करीबी मुकाबले में टीम अनुभव की कमी की वजह से हार गई थी।

उन्होंने कहा ,‘‘बल्लेबाजी में गहराई शानदार है। गेंदबाज भी बेहद प्रतिभाशाली है और फील्डिंग में सुधार आया है।’’

पढ़ें:- शानदार रहा महिला टी20 लीग लेकिन ज्यादा टीमें होनी चाहिए: हरमनप्रीत

गौरतलब है कि इस वक्त इंटरनेशनल महिला वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन और सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले दोनों खिलाड़ी भारतीय हैं। मिताली राज ने 203 वनडे में कुल 6720 रन हैं। छह हजार का आंकड़ा पार करने वाली मिताली अकेली महिला क्रिकेटर हैं।

झूलन गोस्वामी ने 177 मैच में 218 विकेट हासिल किए हैं। झूलन वनडे में 200 विकेट लेने वाली एक मात्र महिला क्रिकेटर हैं।