india tour of sri lanka young brigade gear up and excited
तस्वीर @BCCITwitter

भारतीय टीम की ‘युवा ब्रिगेड’ श्रीलंका दौरे पर जाने को बेताब है. फिलहाल भारतीय टीम के ये खिलाड़ी मुंबई में कड़े क्वॉरंटीन में हैं, जो यहां 28 जून तक जारी रहेगा. इस बीच भारतीय टीम के ये खिलाड़ी अपनी फिटनेस पर जमकर मेहनत कर रहे हैं. टीम इंडिया यहां शिखर धवन (Shikhar Dhawan) की कप्तानी में तीन-तीन वनडे और टी20 मैचों की सीरीज खेलेगी. पूर्व कप्तान और महान बल्लेबाज राहुल द्रविड़ इस टीम के साथ बतौर हेड कोच के रूप में जाएंगे.

पहली बार देश के लिए खेल रहे इन युवा खिलाड़ियों ने इसे सपना सच होने जैसा बताया है. बाएं हाथ के तेज गेंदबाज चेतन सकारिया ने बीसीसीआई टीवी से कहा, ‘अब हर किसी को क्वॉरंटीन की आदत पड़ गई है. क्वॉरंटीन से बाहर निकलकर दूसरे खिलाड़ियों से मिलना और व्यायाम करना अच्छा लग रहा है. मैं बहुत अच्छा महसूस कर रहा हूं.’

पहली बार भारतीय टीम में शामिल सौराष्ट्र के इस खिलाड़ी ने कहा, ‘जब मैं कमरे से बाहर निकला तो लगातार खुद को देखता रहा. जर्सी पहनकर अच्छा लगा. जिम में आने के बाद मैंने आम दिनों की तरह वर्कआउट किया.’

दिल्ली के शीर्षक्रम के बल्लेबाज नीतिश राणा ने कहा, ‘पहले सात दिन मेरे लिए मुश्किल थे और मैं अपने साथी खिलाड़ियों से मिलने का इंतजार कर रहा था. जर्सी पहनने का इंतजार था. हर घंटा एक साल की तरह लग रहा था.’

राणा ने कहा, ‘यहां माहौल अच्छा है और सीरीज को लेकर हम काफी रोमांचित हैं. नए ट्रेनर के साथ मैने बहुत कुछ सीखा है.’ राणा और सकारिया की ही तरह पहली बार भारतीय टीम में शामिल कर्नाटक के देवदत्त पडिक्कल और कृष्णप्पा गौतम ने भी यही बात कही.

पडिक्कल ने कहा, ‘पृथकवास में भी हम कमरे में यथासंभव अभ्यास कर रहे थे. जिम में अभ्यास की बात ही अलग है और अब बहुत अच्छा लग रहा है.’ गौतम ने कहा, ‘हम कर्नाटक के लिए खेलते हैं तो एक दूसरे की ताकत और कमजोरियों का पता है. पडिक्कल के साथ फिर अभ्यास करना अच्छा रहा. लेकिन मुझे लगता है कि उसे अपना वजन बढ़ाना होगा.’

महाराष्ट्र के रितुराज गायकवाड़ ने टीम में चुने जाने को सपना सच होने जैसा बताया. उन्होंने कहा, ‘हम इतने साल से इसका इंतजार कर रहे थे. इसके लिये कड़ी मेहनत कर रहे थे और सपना पूरा होने पर अच्छा लगता है.’