India tour of West Indies: BCCI told team manager Sunil Subramaniam to stay back
Sunil Subramanium @ Facebook

भारतीय क्रिकेट टीम के मैनेजर सुनील सुब्रमण्यम ने अपने गलत व्यवहार के लिए प्रशासकों की समिति (सीओए) से माफी मांग ली है और इसलिए उन्हें एक मौका और दिया गया है। सुनील ने कैरेबियन आइलैंड में उच्चायोग के अधिकारियों से दुर्व्यवहार किया था। भारत सरकार के एक सीनियर अधिकारी ने सुनील के दुर्व्यवहार की शिकायत सीओए से की थी। जिसके बाद सुनील को भारत लौटने का फरमान सुना दिया गया था। सुनील ने हालांकि माफी मांग ली है और अब उन्हें टीम के साथ ही विंडीज में रहने दिया जाएगा।

पढ़ें:- VIDEO: टीम इंडिया ने इस अंदाज में क्रिस गेल को मैदान से दी विदाई

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के कार्यकारी ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा है कि इस बार सुनील को माफ कर दिया गया है। अब यह देखना दिलचल्प होगा कि क्या सुनील को मैनेजर के पद के लिए दोबारा आवेदन देने की अनुमति दी जाती है या नहीं क्योंकि इस महीने के अंत में मैनेजर की नियुक्ति होनी है।

अधिकारी ने कहा, “हां, मेल से संदेश का आदान प्रदान हुआ है और उन्होंने माना है कि यह अनजाने में हुई गलती थी। शीर्ष अधिकारी इस बात को लेकर साफ थे कि उन्हें वापस बुलाया जाए। जब उनसे वापस आने को कहा गया तो उन्होंने माफी मांग ली और इसने सीओए का रुख बदल दिया।”

पढ़ें:- भारत दौरे पर डेल स्‍टेन को नहीं लिए जाने पर CSA ने दी प्रतिक्रिया..

कार्यकारी ने कहा, “मैनेजर के रोल के लिए, अब देखना होगा कि उन्हें दोबारा अनुमति दी जाती है या उन्हें हटा दिया जाता है। यह अब इस बात पर निर्भर करता है कि अधिकारी उनके वापस देश लौटने के बाद मामले को कैसे लेते हैं। लेकिन यह पहली बार नहीं है कि उनकी इस तरह की गलती पकड़ी गई हो। विंडीज में उनकी हरकत ने ताबूत में आखिरी कील ठोंकने का काम किया है।”

बीसीसीआई ने दो उच्चायोगों को बताया था कि विंडीज में जिस विज्ञापन को फिल्माया जाना है, उसके लिए सुनील से सीधे बात की जाएगी लेकिन जब त्रिनिदाद एंड टोबैगो में मौजूद भारत के उच्चायोग के अधिकारियों ने सुनील से संपर्क किया तो मैनजेर ने उन्हें तवज्जो नहीं दी।

2018 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भी सुनील का दुर्व्यवहार सामने आया था लेकिन तब उसे नजरअंदाज कर दिया गया था।