© Getty Images (Representation photo)
© Getty Images (Representation photo)

मुंबई। इंग्लैंड अंडर-19 टीम ने सोमवार को वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए पहले एकदिवसीय मैच में भारतीय अंडर-19 टीम को 23 रनों से हरा दिया। इंग्लैंड ने बल्लेबाजी का आमंत्रण मिलने पर निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 256 रन बनाए। भारतीय टीम 42.5 ओवरों में 233 रनों पर ही ढेर हो गई। सलामी बल्लेबाज हिमांशु राना(107) का शतक भी मेजबानों को हार से नहीं बचा पाया। इंग्लैंड की शुरुआत खराब रही और उसने 13 रनों पर ही अपने तीन विकेट खो दिए। इसके बाद हैरी ब्रूक (51) ने काइले पोप (37) के साथ मिलकर टीम को संभाला और टीम का स्कोर 98 रनों तक पहुंचाया। पोप इस स्कोर पर आउट हुए। उनके बाद मैदान पर उतरे डेलरे रॉविंस ने नाबाद 107 रनों की पारी खेली। अंत में कप्तान मैथ्यू फिशर (26) ने उनका अच्छा साथ दिया और सातवें विकेट के लिए 116 रनों की साझेदारी कर टीम को मजबूती प्रदान की। रॉविंस ने अपनी पारी में 88 गेंदों में आठ चौके और पांच छक्के लगाए।

भारत की तरफ से अभिषेक शर्मा और कमलेश नागरकोटी ने दो-दो विकेट लिए। विवेकानंद तिवारी, राहुल चाहर और मयंक रावत को एक-एक विकेट मिला। लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेजबान टीम को पृथ्वी शॉ(9) के रूप में 32 के कुल स्कोर पहला झटका लगा। शुभम गिल (29) ने शॉ के साथ पारी को संभालने की कोशिश की लेकिन वह ज्यादा देर राना का साथ नहीं दे सके और 78 के कुल स्कोर पर आउट हो गए।[ये भी पढ़ें: दृष्टिहीन टी20 विश्व कप: भारत ने बांग्लादेश को 129 रनों से हराया]

यहां से भारतीय बल्लेबाज लगातार विकेट खोते रहे। एक छोर पर राना खड़े थे लेकिन दूसरे छोर पर कोई भी बल्लेबाज उनके साथ विकेट पर टिक नहीं सका। 87 गेंदों में 12 चौके और एक छक्के लगाने वाले राना 198 के कुल स्कोर पर पवेलियन लौट गए। अंत में हेट पटेल (27) और नागरकोटी ने (37) रनों का योगदान दिया लेकिन वह टीम को जीत की दहलीज पर नहीं पहुंचा सके। इंग्लैंड की तरफ से कप्तान फिशर ने सर्वाधिक चार विकेट लिए।