स्टीवन स्मिथ © Getty Images
स्टीवन स्मिथ © Getty Images

भारत के खिलाफ पांच मैचों की सीरीज का पहला वनडे हारने के बाद ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीवन स्मिथ ने हार की वजह बताई। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान का मानना है कि खराब मौसम के कारण ओवरों की संख्या कम होने से उनकी टीम की जीत की संभावनाओं पर असर पड़ा। उन्होंने कहा, ‘‘बारिश की वजब से हमें दो नई गेंदों के साथ 160 रन के लक्ष्य का पीछा करना पड़ा जो आसान नहीं होता। हम थोड़ा अलग तरीके से खेल सकते थे और शुरुआत में कुछ समय ले सकते थे। हमें अपनी योजनाओं के साथ बेहतर होना होगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘पूरे 50 ओवर खेलना हमेशा अच्छा होता है। हम यहां वही करने आए हैं। लेकिन मुझे लगता है कि जब हम बाहर गए तब काफी तेज बारिश हो रही थी। मुझे लगता है कि एक नई गेंद के साथ 160 रन बनाना काफी आसान होता। जब दोनों छोर से दो नई गेंद होती हैं तो उसे खेलना मुश्किल होता है। उन्हें भी इससे परेशानी हुई थी हमारे साथ भी ऐसा ही था। आपके पास वापसी के लिए समय नहीं होता। अगर हम शुरुआत में थोड़ा संभलकर खेल सकते थे और बाद में अटैक करते।’’ [ये भी पढ़ें: चेन्नई वनडे में मुंबई इंडियंस के बैटिंग ग्लव्स पहन बल्लेबाजी करने आए हार्दिक पांड्या]

शुरुआत में बड़े विकेट मिलने के बाद भी ऑस्ट्रेलिया टीम मैच पर पकड़ नहीं बना सकी। हार्दिक पांड्या और महेंद्र सिंह धोनी को रोकने में कंगारू गेंदबाज असफल रहे। स्मिथ ने कहा, ‘‘उन दोनों ने 120 के आसपास रन जोड़े और टीम को 87 रन से 206 रन तक ले गए। अंत में यह मैच जिताऊ साझेदारी साबित हुई। हमने नई गेंद से काफी अच्छी शुरुआत की लेकिन एमएस और हार्दिक काफी अच्छा खेले।’’ [ये भी पढ़ें: भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया, चेन्नई वनडे: जब केदार जाधव की गलती पर भड़क उठे धोनी] 

भारत की पारी खत्म होने के बाद चेन्नई में तेज बारिश शुरू हो गई, जिस वजह से लक्ष्य को 50 ओवर में 282 रन से घटाकर 21 ओवर में 164 रन कर दिया गया। जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया टीम 21 ओवर में 9 विकेट खोकर 137 रन ही बना सकी। स्मिथ को उम्मीद है कि उनकी टीम अगले मैच में वापसी करेगी। उन्होंने कहा, ‘‘अगर हम मैच जीतते तो अच्छा होता। लेकिन यह सीरीज का पहला मैच था अभी चार मैच बाकी बचे हैं। सीरीज जीतने के लिए हमें तीन मैच जीतने होंगे। हमें कड़ी वापसी करनी होगी। उम्मीद करते हैं कि हम कोलकाता में चीजों को बदल पाएंगे।’’  दूसरा वनडे मैच 21 सितंबर को ईडन गार्डन में खेला जाएगा।